Categories
धर्म

साल में इस एक दिन ना पहने एक भी कपड़ा होंगे अरबों के मालिक…

धार्मिक ख़बर

कोलकाता : सप्ताह का प्रत्येक दिन अलग-अलग कार्याें के लिए प्रधानता रखता है। नए वस्त्रों को धारण करने के लिए शुक्रवार सबसे शुभकारक दिन है। शुक्र ग्रह वैभव और भव्यता के कारक हैं। नवीन वस्त्रों को पहनने के लिए शुक्रवार सर्वाेत्तम है। सोमवार चंद्रमा का दिन है, सौम्य है, इस दिन नए वस्त्रों को धारण करना सहजता और सकारात्मकता का भाव बढ़ता है। विचारों में विनम्रता सद्भाव रहता है। मंगलवार को नए वस्त्र नहीं धारण करने चाहिए। इस दिन नए वस्त्रों के प्रयोग से क्रोध और विवाद की आशंका बढ़ जाती है। मंगलवार को यृद्ध सामग्री और बिजली यंत्रों के उपयोग के लिए अच्छा माना जाता है। युद्ध और कलकारखानों में पहने जाने वाले नए सुरक्षा उपकरण ही मंगलवार को पहनना शुभ है। बुधवार और गुरुवार को नए वस्त्रों को पहनना शुभकारक है। संस्थान से जुड़ीं गणवेश और विद्यालय की नई पोशाकें इन्हीं वारों मे पहना जाना श्रेष्ठकर है। शनिवार और रविवार को नवीन वस्त्रों के इस्तेमाल से बचना चाहिए। इन वारों को धारण किए गए नववस्त्र रोगादि को बढ़ावा देते हैं। कार्यगति भी प्रभावित होती है। रविवार, मंगलवार और शनिवार को नए कपड़े पहनना आवश्यक ही हो तो इन्हें सोम, बुध, गुरु और शुक्रवार को अत्यल्प समय के लिए पहन लें। फिर इन्हें उतार कर सम्हाल कर रख लें। इससे नवीन वस्त्र को पहनने का दोष दूर हो जाता है।