Categories
धार्मिक

ये हैं दुनिया के पांच सबसे अमीर मंदिर हर महीने चढ़ता है कई टन सोना और करोडों का चढ़ावा…

धार्मिक

पद्मनाभस्वामी मंदिर केवल भारत ही नहीं बल्कि विश्व के सबसे अमीर मंदिरों में से एक है। यह मंदिर द्रविड़ शैली वास्तुकला में बनाया गया है। यह मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है। यहां की संपत्ति का अनुमान लगाया जाए तो बताते हैं कि यहां 1 खरब डॉलर के मूल्य की संपत्ति है।

वेंकटेश्वर मंदिर, तिरुपति

तमिलनाडु के तिरुपति में स्थित वेंकटेश्वर मंदिर में हर दिन हजारों की संख्या में लोग दर्शन करने आते हैं। तिरुपति मंदिर में स्वर्ण भंडार और 52 टन सोने के गहने का मूल्य 37,000 करोड़ रुपए है। प्रत्येक वर्ष यह तीर्थयात्रियों से दान बॉक्स में प्राप्त 3000 किलो सोने से राष्ट्रीयकृत बैंकों के साथ गोल्ड रिजर्व जमा के रूप में परिवर्तित हो जाता है।

साईबाबा का मंदिर, शिर्डी

साईंबाबा यहां पर 18वीं शताब्‍दी में रहते थे। साईं बाबा पर हर धर्म के लोग विश्‍वास करते हैं। यही वजह है कि शिर्डी के साईं मंदिर में हजारों भक्‍त दर्शन के लिए आते हैं और दान करते हैं। माना जाता है कि साईं बाबा का सिंहासन 94 किलोग्राम सोने का बना है। यह मंदिर भारत के अमीर मंदिरों की लिस्‍ट में तीसरे स्‍थान पर है।

वैष्णोदेवी मंदिर, जम्‍मू कश्‍मीर

जम्मू जिले के कटरा के निकट स्थित यह सबसे विख्यात मंदिर है। यह मंदिर 5,200 फुट की ऊंचाई पर है। बताया जाता है मंदिर में करीब 500 करोड़ की वार्षिक आय होती है।

सिद्धि विनायक, मुंबई

सिद्धि विनायक मंदिर भगवान गणपति का सबसे लोकप्रिय मंदिर है। यह मंदिर खासतौर पर बॉलीवुड सेलेब्रिटी के साथ अन्य कईं हस्तियों द्वारा जाना जाता है। गणेश जी का गुंबद जिस पर की यहां पर 3.7 किलो ग्राम सोने की परत है। 100 करोड़ से अधिक की वार्षिक आय और 125 करोड़ की सावधि जमा के साथ यह भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक है।