Categories
News

Live show के दौरान हो गई इस मशहूर कॉमेडियन की पिटाई, ये बड़ी वजह आई सामने…

डेली न्यूज़

लाइव शो के दौरान कॉमे’डियन के साथ मार-पीट करने का मामला सामने आया है. इतना ही कॉमे’डियन के खिलाफ हिंदू देवी-देवता’ओं के खिलाफ अभद्र टिप्‍प’णियां करने के लिए मामला दर्ज कर गिर’फ्तार भी कर लिया गया है.

  • इंदौर में कॉमे’डियन के साथ लाइव शो में पिटाई
  • विधा’यक के बेटे ने दर्ज कराई कॉमे’डियन के खिलाफ एफआईआर
  • कॉमे’डियन समेत 4 लोगों को गिर’फ्तार किया गया

नई दिल्‍ली: लाइव शो के दौरान कॉमे’डियन के साथ मार-पीट करने का मामला सामने आया है. इतना ही कॉमे’डियन के खिलाफ हिंदू देवी-देवता’ओं के खिलाफ अभद्र टिप्‍प’णियां करने के लिए मा’मला दर्ज कर गिर’फ्तार भी कर लिया गया है. ये मामला इंदौर का है और बात कॉमे’डियन मुनव्‍वर फारुकी की हो रही है. 

इंदौर में भारतीय जनता पार्टी की विधा’यक मालिनी लक्ष्‍मण’सिंह गौड़ के बेटे एक’लव्‍य सिंह गौड़ (36) ने आरोप लगाया है कि शहर में आयो’जित एक हा’स्य कार्य’क्रम (कॉमेडी शो) में हिंदू देवी-देवताओं और केंद्रीय गृह मंत्री अ’मित शाह पर अभद्र टिप्प’णियां की गईं.

शो के दौरान हुआ हंगा’मा 

अधिका’रियों ने बताया कि शहर के 56 दुकान क्षेत्र के एक कैफे में शुक्रवार को कॉमे’डी शो चल रहा था, जिसमें एक’लव्‍य सिंह दर्शक के तौर पर पहुंचे थे. लेकिन कॉमे’डियन द्वारा शाह के खिलाफ टिप्‍प’णियां करने पर जमकर हंगामा हो गया. कार्यक्रम को बीच में ही रोक दिया गया और फिर तुको’गंज पु’लिस स्‍टेशन में मामले की एफआ’ईआर दर्ज कराई गई. 

तुकोगंज पुलिस थाने के प्रभारी कमलेश शर्मा ने शनिवार को बताया कि गुज’रात के जूना’गढ़ के रहने वाले हा’स्य कलाकार मुनव्वर फारुकी और 4 स्था’नीय लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. कमलेश शर्मा ने कहा, ‘पांचों आरो’पियों को गिर’फ्तार कर लिया गया है.’ 

हिंदू देवी देव’ताओं पर अभ’द्र टिप्प’णी का आ’रोप  

वहीं एक’लव्य सिंह ने बताया, ‘मैं और मेरे कुछ साथी टिकट खरीद’कर कॉमेडी शो देखने गए थे, जहां मुख्‍य कॉमेडियन के तौर पर आए फारुकी ने हिंदू देवी-देव’ताओं के खिलाफ अभद्र टिप्प’णियां करते हुए उनका मजाक बनाया. साथ ही गोधरा कांड और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का भी अनु’चित तरीके से जिक्र किया. हमने इसका वीडि’यो बनाया और शो रुक’वाया. इसके बाद शो के कॉमेडि’यनों और आयोजकों को पकड़’कर तुको’गंज पुलिस थाने ले गए.’

कुछ खबरों में कहा गया है कि कैफे में जम’कर हंगामा हुआ और इस दौरान एक’लव्‍य के सा’थियों ने कॉमेडि’यन के साथ मार’पीट की, लेकिन एक’लव्य ने इससे इनकार किया है.

‘बिना अनु’मति के हुआ कार्य’क्रम का आयो’जन’

भाजपा विधा’यक के बेटे ने यह आरो’प भी लगाया है कि कार्य’क्रम का आयो’जन बिना अनु’मति के किया गया था. जबकि कोरोना वाय’रस के कारण ऐसे कार्य’क्रम करने की अनु’मति नहीं है. साथ ही कार्य’क्रम में सोशल डिस्‍टें’सिंग का पालन नहीं किया गया और छोटे से हॉल में कम से कम 100 दर्शकों को बैठाया गया. बता दें कि एक’लव्य ‘हिंद रक्षक’ नाम के एक स्था’नीय संग’ठन के संयो’जक हैं. 

कोर्ट ने न्यायिक हिरा’सत में भेजा

वहीं शनि’वार को पुलिस ने 5 आरो’पियों को कोर्ट में पेश किया. जहां जिला अदा’लत ने उन्हें जमानत देने से इनकार करते हुए 13 जनवरी तक न्या’यिक हिरासत के तहत जेल भेज दिया. अदा’लत में बहस के दौरान फारुकी के वकील अंशुमन श्रीवा’स्तव ने कहा था कि उनके मुव’क्किल के खिलाफ दर्ज प्राथ’मिकी में लगाए गए आरोप ‘अस्प’ष्ट’ हैं. और यह मामला ‘दलीय राज’नीति से प्रेरित होकर’ दर्ज कराया गया है.

इन धारा’ओं में दर्ज हुआ मुक’दमा

बताते चलें कि पुलिस ने पांचों आरो’पियों के खिलाफ भार’तीय दं’ड वि’धान (IPC) की धारा 295A (किसी वर्ग की धा’र्मिक भाव’नाओं को आहत करने के इरादे से जान-बूझ’कर किए गए विद्वे’षपूर्ण कार्य), धारा 269 (ऐसा लापर’वाही भरा काम करना जिससे किसी जान’लेवा बीमारी का संक्र’मण फैलने का खत’रा हो) और अन्य सम्ब’द्ध प्राव’धानों के तहत मामला दर्ज किया है.