Categories
News

श’राब के शौ’कीनों के लि’ए ब’ड़ी ख’बर: पी’ने वा’ले हो जा’ए सा’वधान, अप’ना ही.. मिला’कर ब’ना र’हे श’राब, तस्वी’रें दे’ख क’र भू’ल जा’एंगे पी’ना…

हिंदी खबर

वी.के.शु’क्ला,न’ई दि’ल्ली। दि’ल्ली में खरी’दने वा’ला भी शरा’ब की जां’च क’र स’केगा श’राब नक’ली तो न’हीं है। इस’के लि’ए आब’कारी विभा’ग ए’क ए’प ब’ना र’हा है। जिस’के मा’ध्यम से प’ता च’ल सके’गा कि शरा’ब का आबका’री टै’क्स दि’या ग’या है या न’हीं। पड़ो’सी रा’ज्य हरिया’णा में श’राब स’स्ती हो’ने के का’रण दि’ल्ली में इ’सकी ब’ड़े स्त’र प’र काला’बाजारी हो’ती है। प्र’ति व’र्ष क’ई हजा’र ली’टर अ’वैध शरा’ब पक’ड़ी जा’ती है। अवै’ध शरा’ब के आ’रोप में त’माम वा’हन प’कड़े जा’ते हैं। इ’नमें महं’गी का’रें त’क शामि’ल हैं।

दि’ल्ली ऐ’सा रा’ज्य है ज’हां अ’वैध श’राब के लि’ए उप’योग में ला’ए जा’ने वा’ले वा’हन को ज’ब्त कर’ने का प्रा’वधान है। इ’न स’ब स’ख्त निय’मों के बाव’जूद दि’ल्ली में श’राब का अ’वैध कारो’बार जा’री है। म’गर पिछ’ले दो मा’ह से आब’कारी विभा’ग अ’ब न’ए सि’रे से अवै’ध का’रोबार को रो’कने के लि’ए तैया’री में जु’टा है। व’हीं विभा’ग ने इ’स बा’त की भी तैया’री शु’रू क’र दी है कि शरा’ब की दुका’नों प’र मि’लने वा’ली शरा’ब भी लो’गों को शु’द्ध मि’ले। दि’ल्ली में क’भी त’क ऐ’सा को’ई मा’मला सा’मने न’हीं आ’या है कि जि’समें साम’ने आ’या हो कि शरा’ब की कि’सी दु’कान प’र अ’वैध श’राब मि’ली हो। मग’र विभा’ग अति’रिक्त स’तर्कता बर’तते हु’ए शरा’ब जां’चने का अधि’कार जन’ता को भी दे’ने जा र’ही है। ए’क ए’प तै’यार कि’या जा रहा है।

ए’प को लो’ड क’रने के बा’द दुका’न या कि’सी बा’र में जा’ने प’र शरा’ब की बो’तल के लेब’ल को स्कै’न कि’या जा सके’गा। इ’सके लि’ए श’राब की बो’तल प’र ल’गने वा’ले लेब’ल प’र विशे’ष त’रह की इं’क का उप’योग कि’या जा’एगा। लेब’ल की छ’पाई सर’कारी प्रे’स में आबका’री वि’भाग स्व’यं करे’गा। वि’भाग की ले’बल जा’री करे’गा जो दि’ल्ली के लि’ए तै’यार हो’ने वा’ली श’राब प’र श’राब के कार’खाने में ही ल’गाया जा’एगा।