Categories
News

इ’स महि’ला के सी’ने में न’हीं धड़’कता दि’ल, बै’ग में दि’ल र’ख क’र चल’ती है ये म’हिला, दे’खें दि’ल दह’ला दे’ने वा’ली तस्वी’रें…

हिंदी खबर

सोश’ल मी’डिया ए’क ऐ’सा प्लेटफॉ’र्म है, जि’स प’र यू’जर अ’पने-अ’पने ढं’ग से ए’क ही कहा’नी को क’ई तरी’के से पे’श क’रते हैं। अ’ब इंग्लैं’ड के ई’स्ट लंद’न में रह’ने वा’लीं 42 व’र्षीय सल’वा हु’सैन को ही ली’जिए! ये पिछ’ले 2-3 सा’ल से लगा’तार सो’शल मी’डिया प’र छा’ई हु’ई हैं। ये ऐ’सी अनू’ठी महि’ला मा’नी जा’ती हैं, जि’नके सी’ने में दि’ल न’हीं धड़’कता। ब’ल्कि ये ए’क पि’ट़्ठू बै’ग में अप”ना दि’ल रख’कर चल’ती हैं। इन’की कहा’नी BBC ने 2018 में पब्लि’श की थी। ले’किन कु’छ दि’नों से ये फि’र से मी’डिया औ’र सो’शल मीडि’या प’र च’र्चा का वि’षय ब’नी हु’ई हैं। इ’नके बा’रे में लो’ग फि’र से जान’ना चाह’ते हैं। प’ढ़िए इन’की क’हानी

42 वर्षी’य स’लवा हु’सैन दो ब’च्चों की मां हैं। वे कृ’त्रिम दि’ल प’र जिं’दा हैं। ले’किन उन’की मुस्का’न बता’ती हैं कि वे अ’पनी जिं’दगी से खु’श हैं। य’ही व’जह है कि वे सो’शल मीडि’या पर बा’र-बा’र वाय’रल हो जा’ती हैं। ब’ता दें कि नेश’नल क्रा’इम रि’कॉर्ड ब्यू’रो(NCRB) की पिछ’ली रि’पोर्ट में क’हा ग’या कि भा’रत में ह’र सा’ल 22000 लो’ग गं’भीर बी’मारियों से हा’रकर सुसा’इड क’र ले’ते हैं। ऐ’से में सल’वा हुसै’न लो’गों को जिंद’गी जी’ने के माय’ने सि’खाती हैं।

सल’वा को क’रीब ढा’ई सा’ल पह’ले हा’र्ट अटै’क आ’या था। इ’ससे उन’के दि’ल ने का’म क’रना बं’द क’र दि’या। हालां’कि इ’ससे प’हले वे खु’द गा’ड़ी ड्रा’इव कर’के कु’छ दू’र स्थि’त अप’ने फै’मिली डॉक्ट’र के घ’र पहुं’चीं। घट’ना के स’मय वे घ’र प’र अ’केली थीं। डॉ’क्टर उ’न्हें अस्पता’ल लेक’र ग’या। व’हां 4 दि’न इला’ज च’ला, फि’र हे’यर फी’ल्ड हॉ’स्पिटल रे’फर कि’या ग’या। य’हां डॉ’क्टरों ने ग’जब ऑ’परेशन कि’या। उ’नके सी’ने में पॉ’वर प्ला’स्टिक चैम्ब’र्स ल’गा दि’ए। इ’ससे 2 पाइ’प जो’ड़े। जो ऑक्सी’जन की सप्ला’ई क’रता है।

सल’वा ए’क बै’टरी च’लित डि’वाइस(जि’से आ’प दि’ल क’ह सक’ते हैं) बै’ग में लेक’र च’लती हैं। इ’सका व’जन 6.8 कि’लोग्राम है। य’ह बिज’ली या बैट’री से चल’ता है। इ’सके ज’रिये प्लॉ’स्टिक बै’ग में ह’वा डा’ली जा’ती है। 

अग’र बै’टरी खरा’ब हो जा’ए या बं’द हो जा’ए, तो उ’से चंद सेकं’ड में बद’लना हो’ता है, ऐ’सी स्थि’ति में स’लवा के प’ति अ’ल हमे’शा उन’के सा’थ चल’ते हैं।

डे’ली मे’ल की रिपो’र्ट के मुता’बिक इ’स डिवा’इस की की’मत 86 ह’जार पा’उंड (क’रीब 85 ला’ख रु’पये) ब’ताई जा’ती है। इ’न कठि’न परि’स्थितियों के बा’वजूद स’लवा ह’मेशा मुस्करा’ती हैं। वे क’हती हैं कि ऊ’परवाले ने जै’सी जिंद’गी दी, उ’से खु’शी-खु’शी जी’ना चा’हिए।