Categories
News

आ’ज इ’स सम’य लगे’गा सू’र्य ग्रह’ण, र’खें इन बा’तों का ख्या’ल, वर’ना हो सक’ती है ब’ड़ी परे’शानी….

धार्मिक खबर

आ’ज सू’र्य ग्र’हण (Solar Eclipse 2020) लग’ने वा’ला है. ये सा’ल का दूस’रा औ’र अंति’म सू’र्य ग्रह’ण है. इस’से पह’ले 21 जू’न को इ’स सा’ल का पह’ला सू’र्य ग्र’हण (Surya Grahan 2020) ल’गा था. आ’ज सू’र्य ग्र’हण प’र गु’रु चंडा’ल यो’ग ब’न र’हा है जि’से ब’हुत अशु’भ मा’ना जा’ता है. इ’सके अला’वा आ’ज सोम’वती अमा’वस्या (Somvati Amavasya 2020) भी है. ग्रह’ण का’ल के दौरा’न शि’व की वि’शेष आरा’धना कर गु’रु चंडा’ल यो’ग के बु’रे प्रभा’व को क’म कि’या जा स’कता है.

क’ब औ’र क’हां दिखे’गा सू’र्य ग्रह’ण? (Solar Eclipse Timings in India)

भार’तीय समयानु’सार (Surya Grahan 2020 Timings) ये ग्रह’ण आ’ज शा’म 7 बज’कर 3 मिन’ट से शु’रू हो’गा औ’र रा’त 12 बजक’र 23 मि’नट प’र ख’त्म हो’गा. सू’र्य ग्रह’ण की अ’वधि ल’गभग 5 घं’टे की र’हेगी. ये सू’र्य ग्र’हण दक्षि’णी अफ्री’का, अधि’कांश द’क्षिण अमे’रिका, प्रशां’त महा’सागर, अटलां’टिक औ’र हिं’द महा’सागर औ’र अंटार्क’टिका में पू’र्ण रू’प से नज’र आए’गा. ये सू’र्य ग्रह’ण भा’रत में न’हीं दि’खाई दे’गा. 

भा’रत में क्या हो’गा अस’र (Solar Eclipse 2020 in India)

संध्या’काल में लग’ने की वज’ह से  ये ग्रह’ण भार’त में नज’र न’हीं आ’एगा. भा’रत में नज’र ना आ’ने की व’जह से ग्र’हण का’ल के दौरा’न कि’सी भी त’रह के का’र्यों प’र पा’बंदी न’हीं हो’गी. ग्रहणका’ल के दौ’रान मांग’लिक का’र्यों प’र भी रो’क न’हीं ल’गेगी. 

सू’र्य ग्र’हण का रा’शियों प’र प्रभा’व (Surya Grahan Effect on Zodiac Signs)

ग्र’हण का’ल ए’क खगो’लीय घट’ना है ले’किन धा’र्मिक रू’प से शु’भ न’हीं मा’ना जा’ता है. ज्योति’ष के अनुसा’र भ’ले ही ये ग्र’हण भा’रत में न’जर ना आ’ए ले’किन इस’का प्र’भाव राशि’यों प’र पू’र्ण रू’प से प’ड़ेगा. सू’र्य ग्र’हण आ’ज वृश्चि’क रा’शि औ’र ज्ये’ष्ठा नक्ष’त्र में ल’ग र’हा है. इ’स ग्रह’ण का’ल के दौ’रान इ’स रा’शि वा’लों को ब’हुत सा’वधान रह’ने की जरूर’त है. ग्रह’ण के प्रभा’व से इ’नके मा’न-सम्मा’न में क’मी आ स’कती है औ’र इ’न लो’गों को मान’सिक पी’ड़ा भी उठा’नी प’ड़ स’कती है. वृश्चि’क रा’शि वा’लों को इ’स दौ’रान सू’र्य की आरा’धना क’रनी चा’हिए.

इ’स सू’र्य ग्रह’ण की खा’स बा’तें (Surya Grahan December 2020)

सा’ल 2020 की शुरूआ’त 10 जन’वरी को चं’द्र ग्रह’ण से हु’ई थी औ’र इस’की स’माप्ति सू’र्य ग्र’हण से होगी. इ’स सा’ल कु’ल मिला’कर 6 ग्रह’ण ल’गे थे, जि’समें चा’र चं’द्र औ’र ज’बकि 2 सू’र्य ग्रह’ण हैं. 21 जू’न को इ’स सा’ल का पह’ला सू’र्य ग्र’हण ल’गा था औ’र दूस’रा सू’र्य ग्र’हण आ’ज ल’ग र’हा है. ये सू’र्य ग्रह’ण पू’र्ण सू’र्य ग्रह’ण हो’गा.

क्या हो’ता है पू’र्ण सू’र्य ग्रह’ण

ज’ब चंद्र’मा सू’र्य को पू’री तर’ह से ढ’क ले’ता है औ’र सू’र्य की किर’णें धर’ती त’क न’हीं पहुं’च पा’ती, इ’स घट’ना को पू’र्ण सू’र्य ग्रह’ण क’हा जा’ता है. ज’ब चं’द्रमा सू”र्य को आंशि’क रु’प से ढ’क ले’ता है तो इ’स घट’ना को आं’शिक सू’र्य ग्र’हण क’हा जा’ता है. व’हीं ज’ब चंद्र’मा सू’र्य का म’ध्य भा’ग ढ’क ले’ता है औ’र सू’र्य ए’क रिं’ग की तर’ह न’जर आ’ने ल’गता है तो इ’स खगो’लीय घट’ना को वलया’कार सू’र्य ग्रह’ण कह’ते हैं.

आ’ज सू’र्य ग्र’हण (Solar Eclipse 2020) लग’ने वा’ला है. ये सा’ल का दूस’रा औ’र अंति’म सू’र्य ग्रह’ण है. इस’से पह’ले 21 जू’न को इ’स सा’ल का पह’ला सू’र्य ग्र’हण (Surya Grahan 2020) ल’गा था. आ’ज सू’र्य ग्र’हण प’र गु’रु चंडा’ल यो’ग ब’न र’हा है जि’से ब’हुत अशु’भ मा’ना जा’ता है. इ’सके अला’वा आ’ज सोम’वती अमा’वस्या (Somvati Amavasya 2020) भी है. ग्रह’ण का’ल के दौरा’न शि’व की वि’शेष आरा’धना कर गु’रु चंडा’ल यो’ग के बु’रे प्रभा’व को क’म कि’या जा स’कता है.