Categories
News

अ’ब स्कू’ल बै’ग में न’हीं हो’गी कि’ताबे, ब’ल्कि हों’गी ये ची’जें, जा’नकर हो जा’एंगे.. प’ढ़ें पू’री ख’बर…

हिंदी खबर

NEP 2020: शि’क्षा मंत्रा’लय ने न’ई स्‍कू’ल बै’ग पॉ’लिसी के तह’त अ’ब स्‍कू’ल बै’ग का व’ज़न स्‍टूडें’ट्स के व’ज़न के 10 प्रति’शत प’र नि’श्चित क’र दि’या है. इस’के अ’लावा क’ई अ’न्‍य नि’यम भी जा’री कि’ए ग’ए हैं जि’नके ला’गू हो’ने के सा’थ स्‍कू’ली ब’च्‍चों की प’ढ़ाई में ब’ड़े स्‍त’र प’र बद’लाव न’ज़र आ’एंगे. न’ई पॉ’लिसी के मुता’बिक, क’क्षा 2 त’क के छा’त्रों के लि’ए को’ई होम’वर्क न’हीं हो’गा. छो’टी क्‍ला’सेज़ के ब’च्‍चों को के’वल स्‍कू’ल में ही पढ़ा’ई क’राई जा’एगी. इस’के अला’वा क’क्षा 1 से 10वीं त’क के छा’त्रों के लि’ए स्‍कू’ल बै’ग का व’ज़न भी, छा’त्र के व’ज़न के 10 प्रति’शत से अ’धिक न’हीं हो’ना चाहि’ए. स्कू’लों से क’हा ग’या है कि वे स्कू’ल प’रिसर में डिजि’टल वेटिं’ग मशी’न र’खें औ’र स्कू’ल बै’ग के व’जन को निय’मित रू’प से चे’क क’रें.

इस’के अ’लावा, स्कू’लों में लॉ’कर और डिजि’टल वे’टिंग म’शीन उप’लब्ध क’राना, परि’सर में पी’ने यो’ग्य पा’नी उ’पलब्ध करा’ना औ’र ट्रॉ’ली स्‍कू’ल बै’ग को प्रति’बंधित क’रना भी स्कू’ल बै’ग प’र अ’पनी न’ई नी’ति में शि’क्षा मंत्रा’लय द्वा’रा की ग’ई सिफा’रिशों में से हैं. न’ई रा’ष्ट्रीय शै’क्षिक नी’ति (NEP) की सि’फारिशों के अनु’सार, इ’स क्षे’त्र में कि’ए ग’ए शो’ध अध्यय’नों के आ’धार प’र, स्कू’ल बै’ग के मा’नक वज’न के बा’रे में अंत’रराष्ट्रीय एजें’सियों की सिफा’रिशों के तह’त यह फै’सला लि’या ग’या है. इ’सी के च’लते स्‍कू’लों में ट्रॉ’ली बै’ग के इस्‍तेमा’ल पर भी प्रति’बंध रहे’गा. 

पॉ’लिसी डॉ’क्‍यूमेंट में क’हा ग’या, ‘स्‍कूल’बैग में अल’ग अ’लग क’म्पार्टमेंट हो’ने चाहि’ए त’था उस’का व’ज़न भी बेह’द क’म हो’ना चा’हिए. स्‍कूल’बैग में दो गद्दे’दार और एक’बराबर प’ट्टियां हों जो दो’नों कं’धों प’र चौ’कोर फि’ट हो स’कें. पहि’ए वा’ले स्‍कू’ल बै’ग को अनु’मति न’हीं दी जा’नी चा’हिए क्यों’कि य’ह सी’ढ़ियों प’र चढ़’ते स’मय ब’च्चों को चो’ट प’हुंचा सक’ता है. ब’च्चों के लि’ए कि’सी कि’ताब का च’यन क’रने के लि’ए, किता’ब का व’ज़न भी जां’चा जा’ना चा’हिए. प्रत्ये’क कि’ताब का वज’न प्रका’शकों द्वा’रा प्र’ति व’र्ग मी’टर (gsm) के सा’थ कि’ताब प’र ही छ’पा हो’ना चा’हिए.’ 

नी’ति में वि’भिन्न स्त’रों प’र छा’त्रों के लि’ए होम’वर्क के बा’रे में भी गाइड’लाइंस जा’री की हैं. इस’के तह’त क’क्षा 2 त’क के ब’च्चों के लि’ए को’ई होम’वर्क न’हीं हो’गा औ’र क’क्षा 9 से 12 त’क के ब’च्चों के लि’ए ह’र दि’न अधि’कतम दो घं’टे का हो’मवर्क दि’या जा सक’ता है. शि’क्षा मंत्रा’लय का मान’ना है कि न’ए नि’यमों के सा’थ छा’त्रों में थ्‍योरि’टिकल नॉ’लेज के स्‍था’न प’र प्रैक्टि’ल नॉ’लेज को बढ़ा’वा दि’या जा’एगा.