Categories
News

न’ई दुल्ह’न इ’न बा’तों का र’खें ख्या’ल, तो ज’ल्द ही ससु’राल में ब’न जाएं’गी सब’की….

हिंदी खबर

नई बहू को ससुराल में यही चिं’ता सताती रहती है कि ससुराल के सदस्य उसे अपना पाएंगे कि नहीं, वो उन्हें समझ पाएगी या नहीं, उनका दिल किस तरह जीतेगी। इन सभी सवालों का एक ही जवाब है कि यदि आपकी नई-नई शादी हुई है तो आप सबसे पहले तो जैसी हैं, वैसी ही रहें। थोड़े ही समय में आपके लिए यह घर भी अपना घर और यह परिवार भी अपना परिवार हो ही जाएगा। बस कुछ बातों का यदि आपने ख्याल रख लिया तो बहुत ही जल्दी घर के सभी सदस्यों की लाड़ली बन जाएंगी। अगली स्लाइड्स के माध्यम से जानिए वो जरूरी बातें।

पसंद- नापसंद का रखें ख्याल
जब कोई हमारे बिना बताए हमारे लिए हमारी पसंद के अनुसार कुछ कर देता है तो हमें कितना अच्छा लगता है। ठीक इसी तरह आप भी सभी की पसंद- नापसंद का ध्यान रखें। विशेषकर आपके घर के सदस्यों के पसंद का खाना बनाकर तो उनका दिल हमेशा जीत ही सकती हैं। साथ ही जब खरीदारी करने जाएं तब भी उनकी पसंद की चीजें उनके लिए ले आएं फिर देखिए वे आपको कितना प्यार करने लगेंगे।

सबकी बातों को सुनें और समझें
ससुराल में यदि कोई अपने मन की बात आपसे करता है, कोई नई चीज आपको सिखाता है, घर के रीति-रिवाजों को आपको बताता है तो उन्हें बहुत ध्यान से सुनें और समझें। घर में बच्चों की बातों को भी सुनें। ऐसा करने से धीरे-धीरे आप सभी की दोस्त बनने लगेंगी। आपको भी सब इतना स्पेस देंगे कि आप अपनी बात भी कह पाएं। जब आप ससुराल में अपनों की बातों को मन से सुनेंगी तो रिश्ते अपने आप मधुर होंगे और आप सबके दिल में जगह बना लेंगी।

मिलजुलकर रहें
ससुराल में परिवार से खुद को अलग न करें। खुद से भी परिवार में शामिल होने की कोशिश करें। आगे रहकर सब से बात करें। उन्हें अपना समय दें। अपनी चीजों को अपनी ननद और सासू मां से बांटें क्योंकि वे भी आपकी मां और बहन ही हैं। ऐसा करने से उन्हें भी अहसास होगा कि आप उन्हें अपना मानती हैं। वे भी आपको अपना मानेंगे और थोड़े ही दिन में आप घर की बहू से बेटी बन जाएंगी।

सभी को सम्मान दें
भले ही बड़ा हो चाहे छोटा ससुराल में सभी को सम्मान दें। यदि आप सब को सम्मान देंगी तो सब आपको भी सम्मान देंगे। यदि आप छोटों को भी भैया- दीदी का संबोधन देंगी तो घर के बड़े जब यह देखेंगे तो वे भी आपसे सम्मान से बात करेंगे। इस तरह से आप अपनी एक छवि बना लेंगी। ध्यान रहे शुरुआत में घर के किसी की भी कोई बात को नजरअंदाज न करें। ऐसा करना अपमानजनक प्रतीत हो सकता है।