Categories
News

अं’तिम अव’सर है मां ल’क्ष्मी को प्रस’न्न क’रने का, जा’नें ये 7 अचू’क उपा’य, औ’र क’रें दे’वी को प्र’सन्न, हों’गी ध’न की व’र्षा…

धार्मिक खबर

व’र्ष 2020 में का’र्तिक पू’र्णिमा 30 नवं’बर को आ र’ही है। य’ह अं’तिम अव’सर है इ’स प’वित्र मा’ह का ज’ब एक’साथ स’मस्त दे’वी-देव’ताओं को प्र’सन्न कि’या जा सक’ता है। यूं भी पून’म मां ल’क्ष्मी को अत्यं’त प्रि’य है। इ’स दि’न मां ल’क्ष्मी की आरा’धना क’रने से जीव’न में खु’शियों की बहा’र आ’ती है।

. पूर्णि’मा के दि’न मां ल’क्ष्मी का पी’पल के वृ’क्ष प’र निवा’स रह’ता है। पू’र्णिमा के दि’न जो भी जा’तक मी’ठे ज’ल में दू’ध मिला’कर पी’पल के पे’ड़ प’र चढ़ा’ता है उ’स प’र मां ल’क्ष्मी प्रस’न्न हो’ती है।

2. का’र्तिक पू’र्णिमा के गरी’बों को चाव’ल दा’न क’रने से चं’द्र ग्र’ह शु’भ फ’ल दे’ता है।

3. इ’सी त’रह शि’वलिंग प’र क’च्चा दू’ध, श’हद व गंगाज’ल मि’ला क’र चढ़ा’ने से भग’वान शि’व प्र’सन्न हो’ते है।

4. का’र्तिक पू’र्णिमा को घ’र के मु’ख्य द्वा’र प’र आ’म के प’त्तों का तो’रण बां’धें।

5. शा’दीशुदा व्य’क्ति पू’र्णिमा के दि’न भूल’कर भी अप’नी प’त्नी या अ’न्य कि’सी से शारी’रिक सं’बंध न ब’नाएं वरना चं’द्रमा के दुष्प्रभा’व आप’को व्य’थित क’रेंगे। इ’स दि’न प’त्नी या कि’सी न’न्ही ब’च्ची को उप’हार दें।

6. पूर्णि’मा प’र चं’द्रमा के उद’य हो’ने के पश्चा’त खी’र में मि’श्री व गं’गा ज’ल मिला’कर मां ल’क्ष्मी को भो’ग लगा’एं।

7. द्वा’र प’र रंगो’ली ज’रूर बना’एं। इस’से वि’शेष स’मृद्धि के यो’ग बन’ते हैं। नव’ग्रह प्रस’न्न हो’ते हैं।

व’र्ष 2020 में का’र्तिक पू’र्णिमा 30 नवं’बर को आ र’ही है। य’ह अं’तिम अव’सर है इ’स प’वित्र मा’ह का ज’ब एक’साथ स’मस्त दे’वी-देव’ताओं को प्र’सन्न कि’या जा सक’ता है। यूं भी पून’म मां ल’क्ष्मी को अत्यं’त प्रि’य है। इ’स दि’न मां ल’क्ष्मी की आरा’धना क’रने से जीव’न में खु’शियों की बहा’र आ’ती है।

व’र्ष 2020 में का’र्तिक पू’र्णिमा 30 नवं’बर को आ र’ही है। य’ह अं’तिम अव’सर है इ’स प’वित्र मा’ह का ज’ब एक’साथ स’मस्त दे’वी-देव’ताओं को प्र’सन्न कि’या जा सक’ता है। यूं भी पून’म मां ल’क्ष्मी को अत्यं’त प्रि’य है। इ’स दि’न मां ल’क्ष्मी की आरा’धना क’रने से जीव’न में खु’शियों की बहा’र आ’ती है।