Categories
News

सीएम योगी ने फिर बढ़ाई बीजेपी नेताओं की बे’चैनी, पीएम मोदी नें की खूब………

नई दिल्ली: प्रधान’मंत्री नरेंद्र मोदी ने बुध’वार को उत्तर प्रदे’श समेत सात राज्यों और कें’द्र शासित प्रदे’शों के मु’ख्यमंत्रियों और स्वास्थ्य मंत्रि’यों के साथ बैठक की। प्रधा’नमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बैठक में वीडियो कॉन्फ्रें’सिंग के जरिए राज्यों में को’रोना वायरस संक्र’मण की वर्तमान स्थि’ति की समी’क्षा की।

प्रधान’मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि संयम, संवेदना, संवाद और सह’योग का जो प्रदर्शन कोरोना काल में देश ने दिखाया है, उसको हमें आगे भी जारी रखना है। कोरोना संक्रमण के विरुद्ध लड़ाई के साथ-साथ अब आर्थिक मोर्चे पर भी हमें पूरी ताकत से आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्र’देश राज्य की सरकार ने को’विड नियंत्र’ण के सम्बन्ध में प्रशं’सनीय कार्य किया है। प्र’तिदिन डेढ़ लाख की रि’काॅर्ड टे’स्टिंग व्याप’क स्तर पर की जा रही है। यहां पर मृ’त्यु दर भी कम है। देश की सबसे बड़ी आ’बादी उत्तर प्रदेश में निवास करती है। इसके दृष्टि’गत इस राज्य की चु’नौतियां भी अधिक हैं। कोरो’ना काल में उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक श्रमि’क वापस आए हैं, जिनके सम्ब’न्ध में सरा’हनीय कार्य किए गए हैं। यहां की जन’ता ने भी कोरोना के नियं’त्रण में राज्य सरका’र के साथ मिल’कर प्रभा’वी भू’मिका अदा की है।

आयु’ष्मान भारत योजना के माध्यम से सवा करोड़ लोगों को मिला लाभ

प्रधा’नमंत्री ने जिन रा’ज्यों के मुख्य’मंत्रियों से बात की उनमें आन्ध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, दिल्ली, पंजाब, तमि’लनाडु और उत्तर प्रदेश शा’मिल थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रभावी टेस्टिंग, ट्रेसिंग, ट्री’टमेंट, सर्वि’लांस और स्पष्ट मै’सेजिंग पर अपना फो’कस और बढ़ाना होगा। उन्होंने कहा बीते महीनों में कोरो’ना इलाज से जुड़ी जिन सुवि’धाओं का विका’स किया गया है, वह हमें कोरोना से मु’काबले में बहुत मद’द कर रही हैं।

उन्हों’ने कहा कि अब हमें को’रोना से जुड़े इन्फ्रा’स्ट्रक्चर को और भी मज’बूत करते हुए हेल्थ, ट्रैकिंग-ट्रे’सिंग से जुड़े नेट’वर्क के लिए बेहतर ट्रे’निंग भी करनी है। उन्होंने कहा कि भारत ने मु’श्किल समय में भी पूरे विश्व में जीवन रक्षक दवा’ओं की आपूर्ति सुनि’श्चित की है। ऐसे में एक राज्य से दूसरे राज्य के बीच आवा’गमन सुगम हो, दवा’इयां और आॅक्सीजन आसानी से पहुंचे, हम सबको मि’लकर यह देखना होगा। उन्होंने कहा कि आ’युष्मान भारत योजना के मा’ध्यम से सवा क’रोड़ लोगों को ला’भान्वित किया गया है।

CM योगी ने PM का किया आभार व्य’क्त

इस अव’सर पर उत्तर प्रदेश के मु’ख्यमंत्री योगी आ’दित्यनाथ ने प्र’धानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उ’नके कु’शल नेतृत्व व मा’र्गदर्शन में राज्य में को’विड-19 के वि’रुद्ध प्रभावी और मज’बूती से ल’ड़ाई लड़ी जा रही है। वर्त’मान में कुल स’क्रिय मरीजों की संख्या 61,699 है, जबकि अब तक पूर्ण उप’चारित मरी’जों की सं’ख्या 3,02,689 है। प्रत्येक जनपद में इंटीग्रेटेड कमाण्ड एवं क’ण्ट्रोल सेण्टर स्थापित कर प्रबन्धन की कार्यवाही सं’चालित की जा रही है। इसके मा’ध्यम से होम आइसोलेशन तथा कोविड अ’स्पतालों में भर्ती सभी मरीजों से नियमित रूप से संवाद स्थापित किया जाता है। सभी जनपदों में नियमित तौर प्रातः किसी को’विड अ’स्पताल में बैठक कर जिलाधिकारी व सीएमओ द्वारा मरीजों को दी जा रही चिकित्सा सुविधाओं की समीक्षा की जाती है। सा’यंकाल इंटीग्रेटेड क’माण्ड एवं क’ण्ट्रोल से’ण्टर पर कोविड-19 की अद्य’तन स्थिति की स’मीक्षा की जाती है।

सर्वि’लांस हेतु प्र’देश में 70 हजार से अधिक निगरा’नी टी’मों का गठन

मुख्यमंत्री ने कहा नि’रन्तर सर्विलां’स हेतु प्रदेश में 70 हजार से अधिक निग’रानी टीमों का गठन किया गया, जिनके द्वारा ल’क्षणयुक्त व्य’क्तियों की पहचान कर उनकी टे’स्टिंग सु’निश्चित की जाती है। कोविड-19 प्र’बन्धन के लिए प्रभावी रण’नीति बनायी गयी है। बेहतर सं’वाद और स’र्विलांस के माध्यम से सं’क्रमण व मृत्यु दर को न्यू’नतम किया गया है। काॅ’न्टैक्ट ट्रेसिंग व टे’स्टिंग पर विशेष फोकस किया गया है। लोगों को निरन्तर जागरूक किया जा रहा है। निजी व सरकारी अ’स्पतालों तथा का’र्यालयों में कोविड हे’ल्प डे’स्क स्थापित किए गए हैं। सभी कोविड हेल्प डेस्क व सर्वि’लांस टीमों को पल्स आॅ’क्सीमीटर एवं इ’न्फ्रारेड थर्मा’मीटर उपलब्ध कराए गए हैं। प्रदेश में प्रतिदिन लगभग डेढ़ लाख टे’स्टिंग की जा रही है, जिसमें से 50 हजार टे’स्टिंग आर’टीपीसीआर के मा’ध्यम से की जा रही है।

प्रदेश में रिकवरी दर 81.87 प्रतिशत

मुख्य’मंत्री ने कहा कि प्रदेश में अ’द्यतन सकल पाॅ’जिटिविटी दर 4 प्रतिश’त है। उन्हों’ने कहा कि गृह मंत्री, भारत सरकार श्री अमित शाह जी के मार्गदर्शन में गौत’मबुद्धनगर व गा’जियाबाद में कोविड-19 की स्थिति सफ’लतापूर्वक नि’यंत्रण में लायी गयी। प्रदेश में एल-1 के 571, एल-2 के 77 एवं एल-3 के 26 डे’डिकेटेड कोविड अस्प’ताल सं’चालित हैं। इन अस्पता’लों में एल-1 के 1,23,460 तथा एल-2 के 15,812 बेड्स उपलब्ध हैं। एल-3 के 12,490 बेड्स पर वे’ण्टीलेटर की सुवि’धा उपलब्ध है। प्रदेश में कुल 7,094 बेड पर आ’ईसीयू की सुविधा उप’लब्ध है। प्रदेश में रि’कवरी दर 81.87 प्रतिशत है।