Categories
Other

यदि सीमा विवाद पर टकरा गये, भारत और चीन तो क्या होगा,जाने किसकी सेना ज्यादा ताकतवर !!

हटकें

साल 2017 में डोकलाम विवाद में भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने थीं करीब तीन वर्ष बाद दोनों देशों के बीच फिर से तनाव की स्थिति है दो हफ्तों से एलएसी पर सेनाएं इकट्ठा हैं और इस जमावड़े के बाद सबकुछ सामान्‍य होने के दावे गलत लगने लगते हैं भारत और चीन के बीच करीब 3500 किलोमीटर लंबी एलएसी है और कई दशकों से यह तनाव का विषय बनी हुई है इस बार लद्दाख में माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे भी यह बात कई बार कह चुके हैं कि अब भारत की सेना के पास पूरी ताकत से चीन का जवाब देने की क्षमता है। 


पिछले 1 महीने में भारत और चीन की सेना लद्दाख और उत्तराखंड में लगभग तीन बार सेनाओं में झड़प हो चुकी है।  


भारत ने वर्ष 2020-2021 के लिए रक्षा बजट में हल्‍का इजाफा किया और इस बार का रक्षा बजट 3.37 लाख करोड़ तय हुआ है अगर इसमें रक्षा पेंशन को भी जोड़ दिया जाए तो बजट करीब 4.7 लाख करोड़ हो जाएगा पिछले वर्ष यानी साल 2019 मेंका रक्षा बजट साल 1962 में चीन से हुई जंग के दौरान आए बजट के बाद पहला बजट था जिसमें सेनाओं को सबसे कम पूंजी दी गई थी। 

अगर चीन की बात करें तो इसका रक्षा बजट कोरोना वायरस महामारी के बाद भी भारत से तीन गुना ज्‍यादा है। अमेरिका के बाद चीन मिलिट्री पर सबसे ज्‍यादा खर्च करने वाला देश है। 22 मई को चीन ने अपना रक्षा बजट पेश किया है और इस वर्ष रक्षा बजट में करीब 6.6 प्रतिशत का इजाफ किया गया है। अब चीन का रक्षा बजट 179 बिलियन डॉलर है और यह भारत के रक्षा बजट के मुकाबले करीब तीन गुना ज्‍यादा है। लेकिन कई बिलियन डॉलर वाला यह रक्षा बजट पिछले कई दशकों में आया सबसे कम डिफेंस बजट है। 

किसके पास कितने सैनिक ग्‍लोबल फायर पावर रिपोर्ट के मुताबिक साल 2020 की रैकिंग में भारत दुनिया का चौथा ऐसा देश है जिसके पास सबसे ताकतवर सेना है ग्‍लोबल फायर पावर के मुताबिक भारत के पास इस समय एक अनुमान के मुताबिक कुल 3,544,000 मिलिट्री पर्सनल हैं इसमें से 1,444,000 सक्रिय और 2,100,000 रिजर्व पर्सनल हैं अगर, चीन की बात करें ग्‍लोबल फायर पावर की लिस्‍ट में यह तीसरे नंबर पर है चीन के पास इस समय कुल 2,693,000 मिलिट्री पर्सनल हैं इसमें से 21,83,000 सक्रिय और 510,000 रिजर्व पर्सनल हैं। 

इसके अलावा अब हत्यारों की बात करें तो हथियार बेशक चीन के पास भारत से ज्यादा है लेकिन भारत के 5 सैनिक चीन से कहीं ज्यादा है जो किसी भी परिस्थिति में अपना जलवा दिखा सकते हैं