Categories
News

बिकरू गांव में हुआ स’त्ता परिवर्तन, विकास दुबे के खौ’फ ने दिलाई दी थी प्रधानी…

हिंदी वायरल खबर

बि’करू प्रक’रण के मुख्य आरोपी वि’का’स दुबे की क्षेत्रभर में दहशत थी. उसके खौफ के आगे लोग गलत के खि’ला’फ आ’वा’ज नहीं उठा पाते थे. हालांकि अब ये खौ,फ बीते व’क्त की कहानी रह गया है. बिकरू गांव और प’ड़ोस के भीटी गांव के प्रधानों को उनके पद से हटा दिया गया है.

बिकरू गांव में बीते 25 सालों से वि’का’स दुबे के छोटे भाई दी’पक की पत्’नी अंज’लि दुबे प्रधान थी. विकास का डर लोगों में कुछ इस तरह था कि अंजलि निर्वि’रोध चुनी गयी थी.

भीटी गांव में जिलेदार सिंह ग्राम प्रधान थे. जिलेदार इस वक्त जेल में हैं. उसे भी वि’कास दुबे की मेहर’बानी से प्र’धा’नी मिली थी. बि’करू प्रकरण के बाद से इन दोनों प्रधानों ने पंचायत राज विभाग से संपर्क नहीं किया था. नोटिसों का जवाब भी दोनों प्रधानों की तरफ से नहीं दिया गया. ऐसे में गांव के वि’का’स कार्य ठप पड़े थे. विका’स कार्य को आगे बढ़ाने के लिए इन गांवों में नए प्रधान नामित कर दिए गए हैं.

बिकरू गांव में अंजलि दुबे को हटाकर रामश्री को कार्यवाहक प्रधान बनाया गया है, वहीं भीटी में जिलेदार को हटाकर विष्णु पाल सिंह को प्रधान का अधिकार दिया गया है. गांव वाले बताते हैं कि विकास दुबे का खौफ इस तरह था कि आसपास के 20 से अधिक गांवों में उसकी मर्जी से ही प्रधान चुने जाते थे. वह जिसे चाहता था उसे प्रधान बनवा देता था.