Categories
News

‘बाबा का ढाबा’ वाले कांता प्रसाद को लेकर आयी बुरी खबर, अस्पताल में हुई…….😭

खबरें

दिल्ली के मालवीय नगर में ‘बाबा का ढाबा’ चलाने वाले बुजुर्ग कांता प्रसाद द्वारा गुरुवार रात को गलत कदम उठाने की कोशिश करने का मा’म’ला सामने आया है। कांता प्रसाद को इलाज के लिए स’फ’दरजं’ग अस्पताल में भ’र्ती कराया गया है, जहां फिलहाल उनकी हा’लत स्थिर बताई जा रही है। हाल ही में कांता प्रसाद ने उस यूट्यूबर गौरव वासन से अपनी गलती के लिए माफी मांगी थी। गौरव ने पिछले साल लॉकडाउन के दौरान बाबा का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया था और वो रातोंरात फेमस हो गए थे।

दिल्ली पु’लि’स के अनुसार, कांता प्रसाद को गुरुवार रात 11:15 स’फ’दरजं’ग अस्पताल में भ’र्ती कराया गया। डॉक्टरों द्वारा कई गई जां’च के दौरान पता चला है कि उन्होंने नींद की गो’लि’यां खाई थीं, जिससे वह बे’हो’श हो गए थे। पु’लि’स अब यह जांच कर रही है कि क्या कांता प्रसाद ने की कोशिश की है? मा’मले की जांच चल रही है।

डीसीपी (दक्षिण) अतुल ठाकुर ने बताया कि बाबा कांता प्रसाद के बेटे करण ने पु’लि’स को दिए अपने बयान में बताया है कि उसके पिता ने नींद की गो’लियां ली हैं। आगे की पूछताछ जारी है।

कांता प्रसाद की पत्नी बादामी देवी ने कहा कि मुझे कुछ नहीं पता, मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्या खाया। मैंने उन्हें नहीं देखा था। वह बे’हो’श हो गए, मैं ढाबे पर बैठी थी। मैं उन्हें यहां ले आई। डॉक्टर ने अभी तक हमें कुछ नहीं बताया है। पता नहीं उनके दिमाग में क्या चल रहा था।

बीते दिनों जब गौरव वासन को एक बार फिर उनसे मिलने ढाबा पर पहुंचे थो तो गौरव को देखकर बाबा फू’ट-फू’टकर रोने लगे थे। इतना ही ने बाबा ने गौरव के पैर पकड़ लिए और कहा कि गौरव की वजह से ही आज दुनिया उन्हें पहचानती है। इस दौरान बाबा गौरव के सिर पर हाथ रखकर दुआएं भी देते रहे।

बता दें कि मालवीय नगर में सड़क किनारे एक छोटा सा ढाबा चलाने वाले कांता प्रसाद ने फेमस होने के बाद पिछले साल दिसंबर में इसी इलाके में एक नया रेस्टोरेंट खोला था, जो कुछ समय बाद ही बंद हो गया। हालात कुछ ऐसे बदल गए कि बाबा को लौटकर अपने पुराने ढाबे पर ही आना पड़ा है।