Categories
धार्मिक

हर औरत को पता होनी चाहिए ये 4 बातें, नहीं तो हो सकता है नुकसान………

धार्मिक खबर

महाभारत एक ऐसा ग्रंथ है जिसमें से हमें गीता का ज्ञान का प्राप्त हुआ। आज हम बात करेंगे महाभारत के सबसे खूबसूरत पात्र द्रौपदी के बारे में, जिसके पांच पति होने के बावजूद भी उसने अपना पतिव्रता धर्म को बहुत अच्छे से निभाया था। द्रौपदी का चरित्र बहुत ही श्रेष्ठ और उत्तम गुणों वाला था। उसने संसार की नारियों को लेकर कुछ बातें कही हैं जिसमें बताया गया है कि स्त्रियों का स्वभाव कैसा होना चाहिए। तो चलिए आज हम आपके सामने रूबरू करते हैं उन बातों को-

स्त्रियों को कभी भी अपनी सोच छोटी नहीं रखनी चाहिए वरना घर में बरकत नहीं रहती है। उसे हमेशा दोनों परिवार के सदस्यों के प्रति समान व्यवहार करना चाहिए। अगर कोई गलत भी हो तो भी उसे अपने व्यवहार में बदलाव नहीं लाना चाहिए बल्कि उसे प्यार से समझाना चाहिए।

समझदार स्त्री को हमेशा बुरी स्त्रियों से दूरी बना कर रखनी चाहिए। एक चरित्रवान स्त्री को न सिर्फ बुरे पुरुषों से बल्कि बुरी स्त्रियों से भी दूर रहना चाहिए।

द्रौपदी के अनुसार एक स्त्री का पति ही उसका सब कुछ होना चाहिए। वे हमेशा अपने पति के साथ कदम से कदम मिलाकर चलें। क्योंकि शादी के बाद एक औरत का पति ही उसका सब कुछ होता है। स्त्रियों को अपने पतियों का आदर-सम्मान करना चाहिए।

स्त्री को कभी भी अपने घर में हो रहे ऊंच-नीच या किसी अन्य तरह के लड़ाई-झगड़ों के बारे में किसी बाहरी व्यक्ति से कभी नहीं सांझा करना चाहिए। इससे घर का भेद दूसरे को पता चलेगा और दुश्मन इसका फायदा उठा सकते हैं।