Categories
Other

दिल्ली के ऐसे 7 प्राइवेट अस्पताल जहाँ कोरोना का होगा सस्तें में इलाज़, जाने नाम

भारत में जानलेवा कोरोना वायरस का संक्रमण बहुत तेजी से फैलता जा रहा है. देश में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या सवा चार लाख के पार पहुंच गई है. पिछले 24 घंटे में भारत में 445 और मरीजों की मौत हो गई है. वहीं कोरोना टेस्ट में 14821 नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक, भारत में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या अब चार लाख 25 हजार 282 हो गई है, जिसमें एक लाख 74 हजार एक्टिव केस, दो लाख 37 हजार ठीक हुए मामले और कुल 13699 मौतें हुई हैं.

दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालो में किसी भी अस्पताल की कुल कोरोना बेड क्षमता के अधिकतम 60% बेड पर सस्ता इलाज दिया जाएगा. लेकिन मरीज को यह कैसे पता चलेगा कि किस अस्पताल में उसको सस्ता इलाज मिल सकता है और किस अस्पताल में नहीं? इसके लिए दिल्ली सरकार ने एक सर्कुलर जारी करके कोरोना के इलाज में लगे सभी प्राइवेट अस्पतालों में रियायती दरों पर उपलब्ध बेड की संख्या जारी की है. सर्कुलर के मुताबिक, दिल्ली में 7 ऐसे अस्पताल हैं जो अपनी कुल क्षमता के 60% से भी ज्यादा बेड पर पहले से ही कोरोना ट्रीटमेंट कर रहे हैं. इसलिए इनमें रियायती रेट वाले बेड की संख्या दिल्ली सरकार ने बताई है. ये 7 अस्पताल हैं-

  1. मैक्स साकेत- 120 बेड
  2. सर गंगा राम कोलमेट हॉस्पिटल- 25 बेड
  3. महा दुर्गा चैरिटेबल ट्रस्ट हॉस्पिटल- 60 बेड
  4. सर गंगा राम सिटी हॉस्पिटल- 72 बेड
  5. सिग्नस ऑर्थोकेयर- 24 बेड
  6. सरोज सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल- 102 बेड
  7. बंसल ग्लोबल हॉस्पिटल- 30 बेड

वहीं, दिल्ली के 108 प्राइवेट अस्पताल ऐसे हैं जो अपनी कुल क्षमता के 60 फीसदी से कम बेड पर ही कोरोना का ट्रीटमेंट कर रहे हैं. यानी इन सभी 108 अस्पतालों में कोरोना के इलाज के सभी 100 फीसदी बेड रियायती दरों पर उपलब्ध होंगे. इन 108 अस्पतालों में छोटे, बड़े और मध्यम सभी तरह के अस्पताल हैं. इनमें से कुछ बड़े अस्पताल जैसे इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल, सर गंगा राम हॉस्पिटल, बत्रा हॉस्पिटल, बीएल कपूर हॉस्पिटल, होली फैमिली हॉस्पिटल, महाराजा अग्रसेन हॉस्पिटल, फॉर्टिस हॉस्पिटल शालीमार बाग, सेंट स्टीफेंस हॉस्पिटल आदि हैं.