Categories
धर्म

अगर सुनाई दे इस पंछी की आवाज़ तो समझ जाइए भगवान दे रहे मृत्यु के संकेत..

धर्म

ज्योतिष शास्त्र में शकुन वअपशगुन का बहुत का विशेष महत्व माना जाता है। हमारे आसपास होने वाली कई चीज़ें हमें उच्छा व बुरा होने का संकेत देती है। कुछ लोग इन सभी बातों में विश्वास नहीं करते और अंधविश्वास कहकर बात को टाल देते हैं। लेकिन जो लोग इन बातों पर भरोसा करते हैं उनके लिए यह बहुत यह बात जानना बहुत जरुरी होती है की कौन से संकेत अच्छे हैं कौन से बुरे….

अगर आप भी चाय पीते हैं तो इस खबर को जरूर पढ़ें, वरना कहीं देर ना हो जाये क्लिक करे
बुढ़ापे तक रहना चाहते हैं जवान तो दूध में मिलाकर करे इस चीज का सेवन…! क्लिक करे
लौकी की सब्जी खाने के बाद भूलकर भी न खाएं ये 2 चीजें, वरना जीवन भर पछताओगे क्लिक करे

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ये मान्यता हमारे आस-पास रहने वाले हर पशु-पक्षी से भी जुड़ी हुई हैं। उन्हीं पक्षीयों में से है उल्लू, उल्लू से जुड़े शकुन-अपशकुन की कई मान्यताएं हमारे समाज में व्याप्त हैं। उल्लू को लक्ष्मी जी का वाहन कहा जात है, लेकिन इसके बाद भी उल्लू अपशकुनी माना जाता है। जी हां, वैसे तो उल्लू आबादी से दूर रहना पसंद करते हैं, लेकिन फिर भी अगर कहीं ये दिख जाएं या इनका स्वर सुनाई दे तो ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ये हमारे लिए अच्छा शकुन या अपशकुन हो सकता है। आइए जानते हैं उल्लू से जुड़े कुछ शकुन-अपशकुन के बारे में

  1. उल्लू अगर किसी व्यक्ति के घर पर बैठना शुरु कर देता है तो वह घर जल्द ही बरबाद होने वाला होता है। उल्लू उस घर के बरबाद होने का संकेत देता है।
  2. उल्लू जब भी किसी घर की छत पर बैठकर आवाज़ करता है तो यह संकेत होता है की उस घर के मालिक पर या तो कोई विपत्ति आने वाली है या फिर घर के किसी व्यक्ति की मृत्यु होने वाली है। इस बात को नज़रअंदाज़ बिलकुल नहीं करना चाहिए।
  3. रात के समय यात्रा कर रहे व्यक्ति को यदि अचानक उल्लू के होम-होम करने की आवाज सुनाई देती है तो यह बहुत ही शुभ माना जाता है। यह संकेत कार्य में सफलता का संकेत होता है।
  4. अगर किसी घर के दरवाजे पर उल्लू तीन दिन तक लगातार रोता है, तो उसके घर में चोरी अथवा डकैती होने की संभावना अधिक रहती है या फिर उसे किसी न किसी रूप में धनहानि होती है।

  1. घर आए हुए मेहमान के पीछे की तरफ यदि उल्लू दिखाई दे तो यह बहुत अच्छा संकेत होता है, इसका अर्थ कार्य में सफलता होता है।
  2. शकुन शास्त्र के अनुसार उल्लू का बांई ओर बोलना और दिखाई देना शुभ रहता है। दाहिने देखना और बोलना अशुभ माना जाता है।