Categories
Other

मेष लग्न की खास बातें क्या हैं? जानें इस लग्न के लोग कैसे करें अपना जीवन बेहतर

मेष लग्न व्यक्तित्व लक्षण

एक मेष लग्न का जातक एक स्वतंत्र व्यक्तित्व वाला होता है। अगर आप मेष लग्न के जातक हैं तो आप अपनी क्षमताओं के आधार पर अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में अधिक रूचि रखते हैं। यदि स्वामी ग्रह मंगल चार्ट में कमजोर है या शनि या राहु (एक ड्रैगन के सिर द्वारा दर्शाया गया चंद्रमा का लग्न नोड) के लिए इच्छुक है, तो व्यक्ति छोटा स्वभाव वाला होगा। जातक असमर्थ महसूस कर सकता है, बेचैन व तनाव से परेशान रह सकता है, और जीवन में अनिश्चित हो सकता है। निर्णय के साथ ही व अपने बातों पर नहीं टिकता है।

मेष लग्न शारीरिक विषेषता

मंगल द्वारा शासित, मेष लग्न में जन्मा जातक उग्र और ऊर्जावान ग्रह मंगल के गुणों से मिलता जुलता प्रभाव रखता है। ऐसे जातक सीधे और तेज स्वभाव वाले होते हैं। उन्हें जल्द ही गुस्सा आ जाता है लेकिन यह आमतौर पर अल्पकालिक होता है। एक मेष लग्न जातक हमेशा सोचता है कि उसका प्रभुत्व बना रहे। हावि होने की प्रवृत्ति बनी रहती है। वे अपनी प्रवृत्ति पर भरोसा करते हैं और परिणाम की चिंता किए बिना प्रवाह के साथ चलते हैं। मेष जातक भी अपने सिर को थोड़ा आगे झुका कर तेज़ी से चलते हैं।

मेष लग्न मानसिक विशेषता

मेष लग्न के स्वामी ग्रह मंगल जीवन शक्ति का प्रतिनिधित्व करते हैं और त्वरित कार्रवाई और निर्णय लेने के लिए मजबूर करते हैं। इस तरह के मूल जातक आशावादी होते हैं और निर्णय लेने में आवेगी होते हैं। आप चुनौतियों से प्यार करते हैं और एक लड़ाई की भावना रखते हैं क्योंकि आप हार की परवाह नहीं करते हैं। कुछ भी नहीं आप अपनी मजबूत व्यक्तित्व के खिलाफ भी जा सकते हैं। आप ऐसे व्यक्ति हैं जो हमेशा दूसरों से आगे रहना पसंद करते हैं।

मेष लग्न प्रेम और संबंध विशेषता

मेष राशि वाले जातक आमतौर पर अपने कुंडली या जन्म कुंडली में शुक्र ग्रह की स्थिति के आधार पर प्यार में भाग्यशाली होते हैं। यदि शुक्र कुंडली में सकारात्मक रूप व स्थान में विराजमान है, तो वे एक सफल और समृद्ध विवाहित जीवन का आनंद लेते हैं। सिंह राशि और धनु राशि के जातक व मेष राशि वालों के लिए अच्छे रोमांटिक मेल बनाते हैं। अन्य संभावित मैच हैं मिथुन, तुला और कुंभ राशि।

मेष लग्न स्वास्थ्य विशेषता

मेष राशि के जातक अक्सर अपने सिर से संबंधित बीमारियों से पीड़ित होते हैं। एक परेशान पाचन तंत्र, अम्लता और पित्त के कारण स्वास्थ्य समस्याएं भी हो सकती हैं। वे कभी-कभी मामूली चोटों का भी सामना करते हैं। मेष लग्न वाले भी दुर्घटनाओं का शिकार होते हैं यदि मंगल शनि के प्रभाव से पीड़ित हो। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आप ज्योतिषाचार्य से बात कर सकते हैं अभी बात करने के लिए लिंक पर जाएं।

मेष लग्न के लिए शुभ ग्रह

सूर्य (5 वें घर का स्वामी), चंद्रमा (4 वें घर का मालिक), और बृहस्पति (9 वें घर का स्वामी) मेष राशि के लिए शुभ ग्रहों में से एक माना जाता है।

मेष लग्न के लिए अशुभ ग्रह

मेष लग्न के लिए बुध (तीसरे और छठे भाव का स्वामी) मेष लग्न वालों के लिए नकारात्मक ग्रह है। कमजोर बुध जातक को अपने भाइयों के साथ अच्छे और स्वस्थ संबंध बनाए रखने में कठिनाई पैदा कर सकता है।

मेष लग्न राशि के लिए अनुकूल रंग

लाल और गुलाबी

मेष लग्न राशि के लिए भाग्यशाली रत्न

मूंगा इस राशि का भाग्यशाली रत्न है।