Categories
News Other

लॉकडाउन के दौरान महिलायें बड़े पैमानें पर दे रही पतियों को तलाक, ये हरकतें हैं वजह….

खबरें

गल्फ न्यूज़ के मुताबिक, कोरोना महामारी के चलते सऊदी में फ़रवरी के बाद से ही लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया था। इस दैरान सऊदी अरब में तलाक में 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। जिससे कई सऊदी पत्नियों को पता चला कि उनके पति ने दूसरी शादियां की है और कुछ अन्य पत्नियां और परिवार हैं।

फरवरी में यह बताया गया कि पिछले साल के इसी महीने की तुलना में सऊदी के भीतर शादी में पाँच प्रतिशत की वृद्धि हुई थी, जिसमें 13,000 शादियां हुई थी और 542 ऑनलाइन पंजीकृत हुए थे।

हालांकि, उस महीने तलाक की संख्या रिकॉर्ड 7,482 थी, जिसके मद्देनजर ‘तलाक और खुला'(जिसमें इस्लामिक शरिया के मुताबिक़ महिला अपने पति को तलाक़ दे सकती है) के अनुरोधों में 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई ।

सऊदी के न्याय मंत्रालय के आंकड़ों का हवाला देते हुए, गल्फ न्यूज ने कहा कि उस महीने के 52 प्रतिशत तलाक के अनुरोध और मामले मक्का और राजधानी रियाद के शहरों के थे। यह भी उल्लेख किया गया है तलाक़ लेने वाली महिलओं में कर्मचारी, व्यवसायी, समुदाय की प्रमुख महिलाएँ और महिला चिकित्सक शामिल है।

सऊदी के वकील सालेह मुसफ़र अल-ग़मदी ने बताया कि उस महीने के दौरान दो हफ़्ते के अंदर, उन्होंने अकेले ही पत्नियों से पाँच तलाक का अनुरोध प्राप्त किया था। “उनमें से एक डॉक्टर है जिनके पति उसके एक अरब निवासी से चुपके से शादी की।”

वहीं आपको बता दें कि खाड़ी देशों में इस्लामिक शरिया के मुताबिक़ एक से ज़्यादा शादी करने की इजाज़त दी गयी है जबकि तुर्की और तुनिशिया जैसे देशों में इस पर प्रतिबंध हैं।