Categories
ज्योतिष

प्रेम का रहस्य :: पुरुषों को क्यों नहीं करना चाहिए प्रेम….

ज्योतिष

कहते हैं किसी व्यक्ति को देखकर उसके स्वभाव के बारे में पता नहीं लगाया जा सकता. प्रेम के बारे में भी कुछ ऐसा ही कहा जाता है. प्रेम किसी से सोच समझकर नहीं किया जाता. सच्चे प्रेम में किसी की कुछ आदतें ही हमारा मन मोह लेती है. प्रेम को पूर्ण करने के लिए लोग विवाह करते हैं ताकि हमेशा एक-दूसरे के साथ रह सके, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें कोई ऐसा व्यक्ति नहीं मिल पाता जिससे कि उन्हें प्रेम हो सके. ऐसे लोग जीवन का निर्वाह करने के लिए एक अच्छे साथी को चुनकर विवाह कर लेते हैं. आचार्य चाणक्य ने 4 प्रकार की स्त्रियों का वर्णन किया है जिनसे विवाह करके व्यक्ति कभी भी निराश नहीं हो सकता.

  1. जो आपसे प्रेम करती हो

चाणक्य मानते हैं कि जिस स्त्री को किसी पुरूष से प्रेम हो और वो उसकी परवाह करती हो, ऐसे पुरूष को कभी भी उस स्त्री को नहीं छोड़ना चाहिए. उसके साथ चाहे भविष्य में कितने ही झगड़े क्यों न हो, लेकिन उस स्त्री का प्रेम उसे सुलह करने को मजबूर कर देगा. ऐसे स्त्री हमेशा खुशहाली ही लाती है. ऐसी स्त्री से विवाह करना उत्तम रहता है.