Categories
ज्योतिष

आंखों ही आंखों में जानिये स्‍त्री का व्‍यक्तित्‍व

सामुद्रिक शास्‍त्र, भारतीय ज्योतिष का एक प्रमुख अंग है। इसके आधार पर विभिन्‍न अंगों की सरंचना को देख आप व्‍यक्ति के बारे में बता सकते हैं। किसी स्‍त्री के कान देखकर उसके बारे में कैसे आंकलन किया जा सकता है। लखनऊ के ज्‍योतिषाचार्य पं. अर्पित शुक्ला महिलाओं की आंखों के अनुरूप स्त्रियों की प्रकृति के बारे में बतायेंगे।

1. यदि किसी महिला के नेत्र अधिक लालिमा लिए हों तो वह स्त्रियां झगड़ालू, क्रोधी व पति के लिए घातक सिद्ध होती हैं।

2. जिस महिला के नेत्र चंचल या इधर-उधर देखती रहती हो ऐसी स्त्रियां व्यभिचारिणी प्रकृति की होती हैं परन्तु उनका विवाह अच्छे कुल में होता है वह बहुत ज्यादा किसी से उम्मीद न रखे अन्यथा धोखा मिलने की आशंका रहती है।

3. जिस महिला के नेत्र पीले हो वह माता-पिता के नाशक होती हैं तथा उसे पेट रोग से हमेशा दिक्कत बनी रहती है।

4. जिस महिला के नेत्र गोल हो वह स्‍त्री मांसाहारी व तेज-तर्रार होती है परन्तु अपने गुणों के कारण समाज में मान-सम्मान पाती है। ऐसी स्त्रियां सम्बन्धों के मामले में काफी सक्रिय होती हैं।

5. पूरे भूर रंग की आंखों वाली महिलायें झूठ बोलने वाली होती है तथा अपने सास-ससुर की सेवा नहीं करती हैं। ऐसी महिलाएं काफी चालाक होती हैं।

6. यदि किसी महिला के नेत्र छोटे होते है वह अपने पति की बात न मानने वाली तथा परिवार में विघटन करने वाली होती है। ऐसी महिलाएं प्रत्येक रिश्तों को स्वार्थ की वजह से चलाती हैं।

7. जिस स्त्री की पलकी सदैव नीचे की ओर झुकी होती हैं वह स्त्री सौभाग्यवती व सुन्दर पुत्र को जन्म देने वाली होती है। ऐसे महिलाएं अपने परिवार को आगे बढाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।

8. जिस महिला के नेत्र लम्बे व कान की तरफ बढे हुए हो वह महिला लक्ष्मी का अवतार मानी जाती हैं। ऐसी स्त्रियां अपने कर्मो के द्वारा परिवार में सुख व समृद्धि लाती हैं।

9. जिस महिला के नेत्र सफेद रंग के होते हैं ऐसी महिला विदुषी तथा सरकारी नौकरी करने वाली होती हैं। इनका पारिवारिक जीवन अच्छे तरीके से व्यतीत होता है।null

10. जिस स्त्री की पलकें बड़ी तथा आंखें काली होती हैं ऐसी स्त्रियां जिस क्षेत्र में जाती हैं उस क्षेत्र में प्रसिद्धि और सम्मान पाती हैं। ऐसी महिलाओं का पारिवारिक व सामाजिक जीवन बेहतर तरीके से व्यतीत होता है।