Categories
धर्म

अगर आपकी भी कुंडली में है मांगलिक दोष तो इस दोष के निवारण के लिए करें अचूक उपाय..

धार्मिक खबर

आपको बता दें की जब कुंडली मे प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम या द्वादश भाव में मंगल होता है तब मांगलिक दोष लगता है। अगर किसी की कुंडली में मांगलिक दोष है तो उसके लिए जीवनसाथी भी मंगलीक ही होना जुरुरी होता है।

लेकिन ज्योतिशास्त्र में इसके निवारण के लिए कुछ नियम बताए गए हैं जिनसे यह दोष समाप्त हो जाता है इसके लिए पीपल का एक छोटा से पेड लगाया जाता है जिससे लड़की का विवाह करबाया जाता है इसके बाद इस पेड को काट देने से मांगलिक दोष का निवारण हो जाता है।

आपको बता दें की जब कुंडली मे प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम या द्वादश भाव में मंगल होता है तब मांगलिक दोष लगता है। अगर किसी की कुंडली में मांगलिक दोष है तो उसके लिए जीवनसाथी भी मंगलीक ही होना जुरुरी होता है।

लेकिन ज्योतिशास्त्र में इसके निवारण के लिए कुछ नियम बताए गए हैं जिनसे यह दोष समाप्त हो जाता है इसके लिए पीपल का एक छोटा से पेड लगाया जाता है जिससे लड़की का विवाह करबाया जाता है इसके बाद इस पेड को काट देने से मांगलिक दोष का निवारण हो जाता है।

आपको बता दें की जब कुंडली मे प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम या द्वादश भाव में मंगल होता है तब मांगलिक दोष लगता है। अगर किसी की कुंडली में मांगलिक दोष है तो उसके लिए जीवनसाथी भी मंगलीक ही होना जुरुरी होता है।