Categories
Other

जानिए क्या है वृषभ राशि में “अंगारक योग ” इन राशियों को है वृषभ राशि से खतरा…

धार्मिक खबर

जानिए क्या है वृषभ राशि में बना अंगारक योग, इन राशियों के लिए है अशुभ (ISTज्योतिष विज्ञान में समय-समय पर ग्रहों की अलग-अलग स्थिति के कारण अलग-अलग योग बनते रहते हैं। इस कारण से अलग-अलग राशियों पर उसका असर भी अलग होता है। अब हाल ही में मंगल ग्रह के वृषभ राशि में गोचर से राहु के साथ मिलकर अंगारक योग बना है। ज्योतिषियों के मुताबिक अंगारक योग 22 फरवरी से शुरू हो चुका है। 22 फरवरी के दिन ही मंगल ग्रह ने वृषभ राशि में प्रवेश किया है। इस योग को ज्योतिष में शुभ योग नहीं माना जाता है भारतीय ज्योतिष के मुताबिक इस योग में कई प्रकार की समस्याओं से विभिन्न राशि वालों का सामना होता है। विशेषकर मंगल और राहु की युति के कारण अंगारक योग का निर्माण होता है। यह योग अभी 52 दिनों तक रहेगा। ऐसे में उन लोगों के विशेष सावधा रहने की जरूरत है, जिन जातकों की कुंडली में मंगल ग्रह या फिर राहु ग्रह कमजोर है।

अंगारक योग के दुष्प्रभाव से बचने का ये है उपाय
: अंगारक योग के दुष्प्रभाव कमजोर मंगल ग्रह पर ज्यादा होता है, इसलिए किसी भी समस्याओं से बचने के लिए हनुमान चालीसा का पाठ जरूर करें और हनुमान जी की कृपा से इस इस योग के खराब प्रभावों से बचाव होता है। हर मंगलवार और शनिवार हनुमान जी की चालीसा का पाठ करें और इसके अलावा चोला चढ़ाना भी बहुत अधिक फलदायी रहता है।