Categories
धर्म

संसार पर बड़ी आपदा आने से पहले पशु पक्षी देते है ऐसे स्पष्ट संकेत…..

धार्मिक ख़बर

पशु पक्षी के इन संकेतों को रखे हमेशा ध्यान में, आपको आने वाली विपदा-संकट से बचा सकते है

जीव-जंतुओं में प्राकृतिक आपदा वर्षा, गर्मी, सर्दी, भूकंप, ज्वालामुखी से लेकर होने वाली घटनाओं के ज्ञान की विलक्षण क्षमता होती है. इसका उदाहरण है शीत ऋतु में हजारों किलोमीटर दूर से प्रवासी पक्षियों का पहुंचना, वहीं काली घनघोर घटाओं के आने पर स्‍थानीय पक्षियों में हलचल होना. कौए का मनुष्य के घर बैठकर मृत्यु का संकेत देना आदि इसके कुछ प्रमुख उदाहरण हैं.

इसके साथ ही मनुष्य की अपेक्षा पक्षी एवं जीव-जंतुओं की इंद्रियां प्रकृति के प्रति कई गुना संवेदनशील मानी जाती हैं. प्राकृतिक आपदाओं को लेकर और आने वाली किसी भी तरह की विपत्ति को लेकर जीव जंतुओं में पहले से ही पूर्वाभास हो जाता है. हम आपको बताते है ऐसे ही कुछ तथ्यों के बारे मेंजो सत्य साबित होते है.

ऐसा नहीं है कि जीव जंतुओं को भगवान को देखने की शक्ति होती है या कोई विशेष वरदान प्राप्त होता है. बल्कि मनुष्य की अपेक्षा पक्षी एवं जीव-जंतुओं की इंद्रियां प्रकृति जनित कारकों के प्रति कई गुना अधिक संवेदनशील और जागरूक होती हैं. इस वजह से वह वातावरण के परिवर्तन और घटना विशेष के घटने के पूर्व अपना बचाव व व्यवहार परिवर्तन करने लग जाते हैं.

अगर हम बात करे कौवों के कई तरह के स्वभाव के बारे में तो यह कई संकेत देता है. कौआ यदि किसी मनुष्य के कंधे पर बैठ जाए तो इसे धनहानि या मृत्यु का संकेत मान लिया जाता हैं. वहीं अगर आप कहीं जा रहे है तो इस दौरान रास्ते में कौआ पानी पीता दिख जाए तो इसे शुभ माना जाता है. अगर कौआ सूर्योदय के समय यदि कौआ आपके घर के सामने आवाज करता है तो धन में वृद्धि तथा मान-प्रतिष्ठा में लाभ होने के आसार होते है. अगर सुबह घर की मुंडेर पर आकर कौआ चिल्लाए तो अतिथि के आगमन का संकेत देता है.

उल्लू को मां लक्ष्मी का वाहन माना जाता है. शास्त्रों में कहा जाता है कि अगर उल्लू से आपकी नजरें मिल जाये तो आप मालामाल हो सकते है. कहा जाता है कि अगर उल्लू किसी रोगी को छूते हुए निकल जाए या उसके ऊपर से उड़ता हुआ निकल जाए तो रोगी के रोग समाप्त हो जाते हैं.

वहीं रंग बदलने वाला गिरगिट को वर्षा का मापक यंत्र माना जाता है.गिरगिट का गहरा रंग होना वर्षा का संकेत माना जाता है.अगर उल्लू किसी की घर की छत पर आ बैठे या फिर आवाज करे तो माना जाता है कि यह मृत्यु का संकेत होता है.

अगर आप कहीं जा रहे है और रास्ते में बछड़े को दूध पिलाती गाय दिख जाए तो यह शुभ संकेत माना जाता है. इसके अलावा अगर आपको हंस, सफेद घोड़ा, मोर, तोता, शंख दिख जाएं तो यह भी शुभ संकेत देते है.

वहीं ध्यान रखे आप कहीं जा रहे हो और कुत्ता भौंक रहा हो तो उसे भी अशुभ संकेत माना जाता है.