Categories
धर्म

ऐसे पुखराज पहनने से हो जाती है मां लक्ष्मी अतिरुष्ट और नहीं रखती कभी घर में क़दम..

धार्मिक ख़बर

पुखराज एक बहुमूल्य रत्न है। इसका संबंध जुपिटर ग्रह से है। मनुष्य के जीवन में ग्रह और रत्न का विशेष प्रभाव पड़ता है। अगर यह ग्रह आपकी कुंडली में अनुकूल है तो किसी अन्य ग्रहों का दुष्प्रभाव मनुष्य पर नहीं पड़ता है। जिसके पास धन की कमी होती है वे लोग पुखराज को घारण करते है। पुखराज को ‘गुरुरत्न’ भी कहां जाता है। पुखराज पीला, सफेद, गुलाबी, आसमानी, तथा नीले रंगों में पाया जाता है। इसे हिन्दी में पुखराज, संस्कृत में पुष्यराज व अंग्रेजी में टोपाज कहते है। जिस व्यक्ति के कुंडली में गुरुकारक ग्रह हो उसे पुखराज पहनना चाहिए। इसे धारण करने से बुरे विचारों से मुक्ति मिलती है। लेकिल इसे धारण करने से पहले जान लें कि इसमें कुछ दोष भी पाए जाते है जैसे :

2/2ऐसा पुखराज पहनने से रूठकर चली जाती हैं मां लक्ष्मी, पढ़ें ये टिप्स
ऐसा पुखराज पहनने से रूठकर चली जाती हैं मां लक्ष्मी, पढ़ें ये टिप्स
जिस पुखराज में आपको खड़ी लकीरें दिखाई दें ऐसा पुखराज आपके घर को बर्बाद कर सकता है। घर के लोगों को कई परेशानियां आ सकती है।

जिस पुखराज मे काले छीटें नजर आ रहे हो ये आपके घर के लिए अच्छा नहीं होता इससे आपके घर में हमेशा कलह होता रहता है। बात-बात पर घर में लड़ाई होती है।

जिस पुखराज में गड्ढा दिखाई दे उसे कभी ना लें इससे आपके घर में लक्ष्मी कभी नहीं आएगी व आकर भी चलें जाएगी।

जिस पुखराज में चमक नहीं होती ऐसा पुखराज स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। इसे पहनकर आपकी सेहत खराब रहेगी।
जिस पुखराज में जाल जैसा बना नजर आए उसे न पहने इससे आपके घर संतान नहीं होंगी।

पढ़ें 2017 का राशिफल, जानें कैसा रहेगा आपके लिए नया साल

पूजा में दीपक जलाते समय इन 5 बातों को रखें ध्यान

वास्तु:ऐसे दूर होगी घर से आर्थिक परेशानी, ये हैं 10 टिप्स

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।