Categories
धर्म

रामभक्त रिंकू शर्मा की हुई हत्या लगा रहा था मंदिर के नारे वहशियों ने कर दी उसकी हत्या देश में डर का माहौल…

धार्मिक

बीजेपी कार्यकर्ता रिंकू शर्मा की हत्या
पुलिस ने सभी आरोपियों को किया गिरफ्तार
दिल्ली के मंगोलपुरी में बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या पर जबरदस्त सियासी घमासान है. बीजेपी और विश्व हिदू परिषद का आरोप है कि राम मंदिर निर्माण से जुड़े होने की वजह से हत्या हुई है. बीजेपी के साथ ही परिवार वाले भी यही आरोप लगा रहे हैं, हालांकि, दिल्ली पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करके मामले की जांच कर रही है.

गौरतलब है कि बुधवार रात मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा नामक एक युवक की चार लोगों ने चाकू गोंदकर हत्या कर दी. पुलिस का कहना है कि रिंकू के दोस्त ने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर हत्या की है. यह हत्या बर्थडे पार्टी में रेस्त्रां खोलने को लेकर हुए विवाद में की गई. पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. हालांकि, पुलिस के दावे से उलट रिंकू के परिजनों का कहना है कि हत्या राम मंदिर के कारण हुई है.

पुलिस ने चार आरोपियों को किया है गिरफ्तार

पुलिस ने आरोपियों की पहचान मोहम्मद दानिश, मोहम्मद इस्लाम, जाहिद और मोहम्मद मेहताब के रूप में की है. दानिश और इस्लाम दर्जी हैं, जाहिद एक कॉलेज छात्र है और मेहताब कक्षा 12 में पढ़ता है. हालांकि, रिंकू के परिवार का दावा है कि इसके पीछे मजहबी नफरत से भरी खतरनाक मानसिकता है.

हत्या को लेकर पुलिस ने दी यह दलील

दिल्ली पुलिस ने कहा कि रिंकू शर्मा का एक बर्थडे पार्टी में रेस्त्रां खोलने को लेकर झगड़ा हुआ था, इसके बाद वह जब बर्थडे पार्टी से घर जा रहा था, तभी दानिश ने उसे रोक लिया, इस दौरान दोनों के बीच नोकझोक हुई, नोकझोक के दौरान ही दानिश ने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर रिंकू पर हमला कर दिया और चाकू गोद दिया.

परिवार के मुताबिक ऐसे हुई हत्या

रिंकू के भाई के मुताबिक, रिंकू बुधवार की शाम इलाके में ही एक जन्मदिन की पार्टी में गया था. जब वो पार्टी से लौट रहा था, उसी दौरान घर के पास के एक पार्क के पास उसके पड़ोस में रहने वाले एक युवक और उसके कुछ साथियों ने उसे पकड़ लिया था, वहीं पर उनके बीच में झगड़ा हुआ और झगड़ा बढ़ गया और रिंकू भाग के घर आया.

भाई के मुताबिक, आरोपी पीछा करते हुए घर तक आ गए, जमकर मारपीट की और रिंकू पर चाकू से हमला कर दिया. बाद में रिंकू की अस्तपताल मौत हो गई. चाकू रिंकू की पीठ में ही था. आरोप है कि हमले के दौरान हमलवारों ने रिंकू के घर का LPG सिलेंडर भी खोल दिया. 25 साल का रिंकू एक निजी अस्तपताल में लैब टेक्नीशियन का काम करता था.

भाई बोला- राम मंदिर के कार्यक्रम के बाद मिल रही थी धमकी

रिंकू के भाई का कहना है कि रिंकू इसलिए निशाने पर आ गया क्योंकि वो एक राम भक्त था, राम मंदिर निर्माण से जुड़ा था और बीजेपी के कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेता था. परिवार वाले की मानें तो हत्यारों ने घर पर धावा बोल दिया. रिंकू के साथ-साथ बुजुर्ग माता-पिता पर भी हमले किए. इस वारदात पर अब दिल्ली की राजनीति उबल रही है.

रिंकू की हत्या के बाद बीजेपी हमलावर

रिंकू शर्मा की हत्या पर बीजेपी हमलावर है, लेकिन दिल्ली पुलिस कह रही है वारदात बर्थ डे पार्टी के दौरान हुई. दिल्ली पुलिस ने 4 आरोपियों की गिरफ्तारी की है. तफ्तीश शुरु हो गई है, लेकिन उससे पहले ही राजनीतिक तनातनी की तलवारें तन चुकी हैं.

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट करके कहा, ‘अगर रिंकू का नाम रेहान होता तो उसकी हत्या देश की सबसे बड़ी खबर होती, हर नेता उसके दरवाजे पर होता, रिंकू शर्मा जी की हत्या दिल्ली में ऐसा पहला अपराध नहीं, अंकित सक्सेना, ध्रुव त्यागी, डॉ नारंग, राहुल, अंकित शर्मा सब को ऐसे ही तो मारा गया, आखिर क्यों? #JusticeForRinkuSharma.’

वहीं, दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा, ‘देश की राजधानी में हुई घटना से मन अत्यंत दुखी है. श्रीराम मंदिर हेतु समर्पण निधि एकत्र करने पर एक युवक की विशेष समुदाय द्वारा हत्या कर दी गयी, मैं इसकी कड़े शब्दों में निंदा करता हूं व दिल्ली पुलिस से दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग करता हूं.’

हत्या को सांप्रदायिक रंग न दिया जाए: AAP

वहीं, आम आदमी पार्टी ने कहा कि जिन्होंने भी यह किया है, उन्हें सख्त से सख्त सजा होनी चाहिए, उन्हें जेल में डालना चाहिए और हिंदुस्तान के कानून में जो भी सबसे कठिन धारा है, उसके हिसाब से कार्रवाई होनी चाहिए. आम आदमी पार्टी यह भी कहना चाहती है कि इसे सांप्रदायिक रंग न दिया जाए, धार्मिक मामला न बनाया जाए और जो भी दोषी हो उसे फांसी की सजा दी जाए.

इस पूरे मामले में दिल्ली पुलिस के PRO ने कहा है कि 10 फरवरी को मंगोलपुरी इलाके में कुछ युवा जन्मदिन मनाने के लिए एक रेस्टोरेंट में इकट्ठा हुए. उनमें से कुछ लोगों में लड़ाई हुई जिसके बाद वो चले गए. उसी रात उनके बीच दोबारा लड़ाई हुई जिसमें एक लड़के की मौत हो गई. पुलिस ने FIR दर्ज़ करके 4 लोगों को गिरफ़्तार किया है.