Categories
Other

अगर नहीं मरना चाहते अकाल मृत्यु तो इस वर्ष के ऐतिहासिक चंद्रग्रहण व सूर्यग्रहण में करे ये दो उपाय😱..

धार्मिक खबर


Happy New Year 2021: नया साल शुरू होते ही एक बार फिर से व्रत और त्योहारों का दाैर शुरू हो जाएगा। इसी के साथ ही नए साल में सूर्य और चंद्र ग्रहण भी लगेंगे। आइए यहां जानें इस साल के चंद्र ग्रहण और स
कानपुर (इंटरनेट-डेस्क)।
Happy New Year 2021: नए साल 2021 में भी हर साल की तरह चंद्र ग्रहण और सूर्य ग्रहण पड़ेंगे। इस साल दो चंद्र ग्रहण और दो सूर्य ग्रहण पड़ेंगे। हालांकि उज्जैन स्थित जीवाजी वेधशाला ने कहा है कि 2021 में पड़ने वाले चार ग्रहणों में दो ग्रहण ही भारत में दिखाई देंगे। वेधशाला के अधीक्षक डॉक्टर राजेंद्रप्रकाश गुप्त ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया बताया कि आने वाले साल में ग्रहणों की अद्भुत खगोलीय घटनाओं का सिलसिला मई में शुरू होगा। 26 मई, 2021 को साल का पहला चंद्र ग्रहण लगेगा और 10 जून 2021को साल का पहला सूर्य ग्रहण पड़ेगा। इसके बाद 19 नवंबर 2021 को साल का दूसरा चंद्र ग्रहण और 4 दिसंबर 2021 को साल का दूसरा सूर्य ग्रहण पड़ेगा। रिपोर्ट्स के मुताबिक 10 जून पड़ने वाला ग्रहण भारत में ग्रहण आंशिक रूप से दिखाई देगा। वहीं नवंबर को पड़ने वाला चंद्र ग्रहण भी भारत समेत कुछ देशों में दिखाई देगा।
इस वजह से पड़ते हैं चंद्र और सूर्य ग्रहण

सूर्य ग्रहण तब पड़ता जब चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच से गुजरता है। इस दाैरान चंद्रमा सूर्य की रोशनी को पृथ्वी पर आने से रोकता है और चंद्रमा की पृथ्वी पर जो छाया पड़ती है उसे ही सूर्य ग्रहण कहा जाता है। सूर्य ग्रहण तीन प्रकार के पूर्ण सूर्य ग्रहण, आंशिक सूर्य ग्रहण, वलयाकार सूर्य ग्रहण होते हैं। चंद्र ग्रहण एक खगोलीय स्थिति है। जब सूर्य और चंद्रमा के बीच में पृथ्वी आ जाती है तो चंद्र ग्रहण लगता है। इस दाैरान सूर्य की किरणों को सीधे चंद्रमा तक पहुंचने से रोकती है। वहीं चंद्र ग्रहण तीन प्रकार के पूर्ण चंद्र ग्रहण, आंशिक चंद्र ग्रहण और खंडच्छायायुक्त या उपच्छाया चंद्र ग्रहण होते हैं