Categories
Other

अच्छे वैवाहिक जीवन, संतान, रोजगार और संपत्ति चाहते हो तो बृहस्पति देव को करें प्रशन्न….आज करें यह उपाय

अगर आप की जन्म पत्रिका में बृहस्पति देव की स्थिति ठीक नहीं है किसी न किसी रूप में बृहस्पति देव यदि नकारात्मक फल दें रहे हैं तो आप को बृहस्पति वार के दिन नीचे बताये हुए उपाय अवश्य करना चाहिए यदि आप यह उपाय श्रद्धा से करते हैं इन्हें सिर्फ उपाय मान के करोगे की मेरी परेशानी दूर हो जाये अपने मतलब से करोगे तो यह काम नहीं करेंगे यह उपाय तभी काम करेंगे जब आप प्रेम से करोगे मन से यह उपाय करोगे जैसे हमे कोई इंसान प्रिय होता है हम उसको खुश करने के लिए जो भी करते हैं वह बड़े प्रेम से होता है उसी प्रकार उपाय भी आप को प्रेम पूर्वक ही करने होंगे तभी काम करेंगे।

बृहस्पतिवार के दिन पूजा में पीले रंग की चीज़ों का बहुत महत्व माना गया है। माना गया है कि भगवान को पीले रंग से अधिक लगाव है। इसलिए इस दिन पीले फल-फूल, चने की दाल, पीला चंदन, पीली मिठाई, मुनक्का, पीले मक्के का आटा, चावल और हल्दी का दान करना चाहिए। पीले रंग के ही वस्त्र धारण करें

जो लोग गुरुवार के दिन व्रत का पालन नहीं कर सकते उनके लिए कुछ नियम और मंत्र बताए गए हैं। जिसे अपनाने से बृहस्पति देव की कृपा को पाया जा सकता है। बृहस्पतिवार के दिन पीले रंग के ही वस्त्र धारण करना शुभ माना गया है। इस दिन काला या लाल वस्त्र पहनने से सख्त मना किया जाता है।

कैसे करें पूजन

गुरुवार के दिन स्नान आदि करके भगवान बृहस्पति की पूजा करनी चाहिए। किसी मंदिर में जाकर इनकी पूजा केले के वृक्ष के रुप में भी की जा सकती है। भगवान की प्रतिमा के समक्ष सरसों के तेल का दीया जलाएं। इस दिन पीले फूल, पीले अनाज, पीली वस्तुओं को ही अर्पित करें। पूजा के लिए उनके नीचे दिए गए बीज मंत्रों का जाप करें यदि संभव हो तो इस दिन भगवान बृहस्पति के लिए व्रत रखें। पूर्ण विधि के अनुसार व्रत करें। ऐसा करने से देव प्रसन्न अवश्य होंगे। अगर किसी कारणवश व्रत नहीं कर सकते तो विधि पूर्वक इनका पूजन और व्रत कथा पढ़नी या सुननी चाहिए।

अब बात करते हैं सामान्य उपाय की जो आप को करने चाहिए अतरिक्त रूप में तो सबसे पहला उपाय है कि आप को किसी भी रुप में शिक्षा से जुड़ी सामग्री दान देनी है और वह किसी जरूरतमंद जगह पर देनी है जैसे कोई स्कूल है जो फ्री में बच्चों को शिक्षा देता है या कोई इसी प्रकार का NGO है अथवा आप स्वयं सक्षम है तो विद्दा दान करें

ब्राह्मणों का आदर करें और बुजुर्ग लोगो को किसी भी प्रकार की वस्तु भेंट दें मंदिर में दान दे सकते हैं।

बृहस्पति वार के दिन बृहस्पति व्रत करें पीला भोजन करें और पीले ही वस्त्र पहने केले के वृक्ष की पूजा करें

पीली वस्तुओं का ब्राह्मण लो दान दें भोजन करवाने के बाद।

ॐ बृं बृहस्पतये नम: मन्त्र की डेली एक माला अथवा गुरुवार के दिन एक माला जप करें।