Categories
धार्मिक

मंगलवार के दिन भूलकर भी ना करे ये काम नहीं तो हो सकती है किसी नजदीकी की मृत्यु 😮

धार्मिक

भूलकर भी मंगलवार को ना करें ये 6 भूल

पवनपुत्र हनुमान हर समस्या से अपने भक्तों को बचाते हैं। ज्योतिष के अनुसार, मंगलवार के दिन इनके पूजा करने से इंसान के सभी भौतिक कष्ट दूर होते हैं। हर रोज जाने-अनजाने इंसान कुछ ऐसे काम कर देता है, जिसका अशुभ प्रभाव उसकी जिंदगी पर पड़ता है। ज्योतिष के अनुसार, मंगलवार के दिन कुछ ऐसे कार्य होते हैं, जिनको नहीं करने चाहिए। ऐसा करने से आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है साथ ही मंगल का अशुभ प्रभाव भी जिंदगी पर पड़ता है। क्योंकि मंगलवार को मंगल ग्रह का दिन होता है। आइए जानते हैं मंगवार को ऐसे कौन से कार्य नहीं करने चाहिए, जिसका असर आर्थिक स्थिति पर पड़ता हो…

2/7 संतान पर पड़ता है असर

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, मंगलवार के दिन उधार लेन-देन नहीं करना चाहिए। मंगलवार के दिन धन का लेन-देन अशुभ माना गया है। इस दिन कर्ज लेने से चुकाना मुश्किल हो जाता है और दिए गए धन का वापस मिलना कठिन हो जाता है।
मंगलवार के दिन भूलकर भी मांस-मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। ज्योतिषशास्त्र में मंगल को उग्र ग्रह बताया गया है। ऐसे में अगर आप मांस-मदिरा का सेवन करेंगे तो आपकी उग्रता में वृद्धि होगी, इसका नकारात्मक प्रभाव आपके पारिवारिक और सामाजिक जीवन पर नजर आने लगता है।

प्रमोशन चाहिए तो मंगलवार के दिन ये उपाय जरूर करें

4/7 मंगल का पड़ता है अशुभ प्रभाव

मंगलवार को लाल वस्त्र धारण करना चाहिए और दान भी लाल ही करना चाहिए। मंगलवार को काले वस्त्र नहीं पहनना चाहिए, इससे शनि का प्रभवा बढता है। शनि के साथ मंगल का संयोग बहुत ही ज्यादा अशुभ और कष्टकारी माना गया है। इससे मानसिक और शारीरिक कष्ट में वृद्धि होती है
आप नया कार्य शुरू करने जा रहे हैं तो मंगलवार के दिन आरंभ कर सकते हैं। लेकिन मंगलवार के दिन निवेश करना शुभ नहीं माना जाता है। संभव हो सके तो नया निवेश मंगलवार की जगह बुधवार को करें। ऐसी मान्यता है कि मंगलवार से निवेश का आरंभ करने पर किसी कारण से योजना सफल नहीं हो पाती है या धन का नुकसान होता है।

बुध मिथन राशि में, कई राशियों के जीवन में लाएंगे हलचल

6/7 नकारात्मक शक्तियों का होता है वास

मंगलवार के दिन कर्ज की तरह धारदार सामान, जैसे छुरी, कांटा, कैंची आदि ना तो खरीदें और ना दें। मंगल को ज्योतिष में रक्त और युद्ध का कारण माना गया है। धारदार चीजों की खरीदारी से परिवार में कलह बढता है।