Categories
धर्म

शनिवार की शाम बिना किसी को बताए करें ये उपाय, खुल जाएगी बंद किस्मत

धर्म समाचार

नई दिल्ली: शनिदेव (Shanidev) को ‘न्याय प्रिय पसंद देवता’ माना गया है. इंसान के अच्छे और बुरे कर्मो के फल शनि’देव ही देते हैं. जहां अच्छे कर्म वाले वाले व्य’क्ति पर शनिदेव की कृपा बरसती है वहीं, बुरे कर्म करने वाले व्य’क्ति को शनिदेव के प्रकोप का शिकार होना पड़ता है. माना जाता है कि जिस व्यक्ति से शनिदेव नाराज हो जाते हैं, उसका सर्वनाश होना तय होता है. तां’त्रिक ग्रथों में शनि’देव को प्रस’न्न करने के कुछ खास उपाय बताए गए हैं. कहा जाता है कि इन उपायों को करने से सभी कष्ट समा’प्त होते हैं और सोई किस्मत रातों’रात जाग उठती है.

जानिए शनिवार के दिन कौन से उपाय करने चाहिए-

शनिवार की शाम को काले कपड़े में एक मुट्ठी चावल बांध लें और फिर चा’वल की पोटली को शनि’देव के चरणों में रख दें. शनिदेव के आगे सरसों के तेल का दीपक जलाएं और फिर चावल की पोटली को किसी बहती नदी में बहा दें. इस उपाय को करने से आपके सारे दुख दूर हो जाएंगे. लेकिन याद रखें, इस उपाय के बारे में किसी से कोई बातचीत न करें.

शनिवार के दिन शनिदेव पर सरसों का तेल चढ़ाया जाता है, लेकिन सरसों के तेल का एक उपाय करने से शनिदोष समेत सभी सम’स्याएं ख’त्म हो जाती हैं. शनिवार को सूर्या’स्त के समय मंदिर में मौजूद पीपल पर सरसों के तेल का दीया जलाएं. इस दौरान आपको किसी से कोई बात नहीं करनी है और चुपचाप घर आ जाना है. इस उपाय से आपके सारे कष्ट समा’प्त हो जाएंगे और धन-धान्य भरेंगे. इस उपाय से शनि और राहु का प्रकोप भी कम हो जाता है.

शनिदेव हनुमान जी को अपना गुरु मानते हैं. इसलिए शनिवार की शाम को हनुमान जी के सामने देसी घी का दीया जलाएं और हनु’मान चालीसा का पाठ करें. इसके अलावा हनुमान जी को प्रसाद भी चढ़ाएं. ऐसा करने से शनि’देव प्रसन्न होते हैं और उनकी कृपा से सारे कष्ट ख’त्म हो जाते हैं.