Categories
Other

मरकज को लेकर अमित शाह ने दे दिया बडा बयान !! बोले अगर…….

खबरें

मरकज में सालभर होते रहते हैं कार्यक्रम: अमित शाह
सरकार हर कोरोना वॉरियर के साथ खड़ी है: गृह मंत्री
मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल आज शनिवार को पूरा हो गया. इस मौके पर आयोजित आजतक के खास कार्यक्रम e-एजेंडा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शिरकत की. उन्होंने इस दौरान लॉकडाउन, देश की मौजूदा अर्थव्यवस्था और कोरोना वायरस जैसे मुद्दों से जुड़े हर सवाल का बेबाकी से जवाब दिया. गृह मंत्री ने दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज मामले को लेकर भी बयान दिया. उन्होंने कहा कि अगर समय पर हम मरकज के कार्यक्रम को रोक देते और मेडिकल हेल्प देते तो शायद ये स्थिति नहीं होती.

अमित शाह ने कहा कि मरकज में सालभर ऐसे कार्यक्रम होते रहते हैं. वो कोई सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं था. मरकज के अंदर कार्यक्रम था. लेकिन मुझे लगता है कि समय पर इसको रोक देते और मेडिकल हेल्प देते तो शायद ये स्थिति नहीं होती.

ये भी पढ़ें-

बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है. हालांकि लॉकडाउन 1.0 के दौरान कुछ ऐसी घटनाएं हुई हैं, जिसके कारण कोरोना वायरस के केस बढ़े. इसमें से एक दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज का भी मामला है. दिल्ली और यूपी जैसे प्रदेशों की सरकार ने कोरोना के मामले बढ़ने के लिए मरकज को जिम्मेदार ठहराया था. उस वक्त ऐसा था कि 28 से 30 फीसदी केस वहां से पूरे देश में फैले.

ये भी पढ़ें-

वहीं कई राज्यों में कोरोना वॉरियर्स पर हमले भी हुए. इसपर अमित शाह ने कहा कि सरकार हर कोरोना वॉरियर के साथ खड़ी है. देश में 70 से 80 घटनाएं सामने आई हैं और हर जगह कठोर कदम उठाए गए हैं.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि भारत में जितनी आपदा और महामारी आई हैं, उससे सभी सरकारें लड़ी हैं. हर बार परिवर्तन सरकारें लाती थीं, लेकिन इस बार पूरा देश लड़ रहा है. लोगों ने जनता कर्फ्यू, थाली बजाकर और कोरोना वॉरियर्स का सम्मान कर देश को इस महामारी के खिलाफ मजबूत किया.