Categories
News

स’रकार दे र’ही दुल्ह’न को तो’हफे में गो’ल्ड, शा’दी से पह’ले क’रें ये का’म मि’लेगा आप’को भी.. जानि’ए पू’री स्की’म…

हिंदी खबर

शा’दी में दुल्ह’न को तो’हफे में सो’ने के ग’हने दि’ए जा’ते हैं, क्यों’कि ये शु’भ मा’ना जा’ता है. ले’किन इ’स महं’गाई में तमा’म गरी’ब मा’ता-पि’ता अप’नी बि’टिया को शा’दी में य’ह तोह’फा न’हीं दे पा’ते हैं. ऐ’से में अस’म की सर’कार ए’क स्की’म च’ला र’ही है, जिस’के त’हत शा’दी में दुल्ह’न को गि’फ्ट में गो’ल्ड दि’ए जा’ते हैं.

दरअ’सल दुल्ह’न को सर’कार की त’रफ से सो’ने खरी’दने के लि’ए 30 हजा’र रुप’ये की म’दद पहुंचा’ई जा’ती है. य’ह स्की’म अ’सम सर’कार ने पिछ’ले सा’ल ही लॉ’न्च की है. इ’स योज’ना का ला’भ उ’ठाने के लि’ए कु’छ श’र्तें र’खी ग’ई हैं. जि’स स’मय य’ह योज’ना शु’रू की ग’ई थी, उ’स सम’य 10 ग्रा’म सो’ने का भा’व 30,000 रु’पये था. या’नी सर’कार 10 ग्रा’म सोने की की’मत भुगता’न कर’ती थी. (Photo: File)

अ’भी भी य’ह स्की’म अस’म में जा’री है, औ’र सर’कार दुल्ह’न को सो’ने की ज्वेल’री खरी’दने के लि’ए 30000 रु’पये दे’ती है. अ’सम के मुख्य’मंत्री सर्बा’नंद सोनो’वाल ने इ’स योज’ना का ना’म ‘अरुंध’ति स्व’र्ण यो’जना’ दि’या है. इ’स यो’जना का ला’भ उठा’ने के लि’ए श’र्तें कु’छ इ’स प्र’कार हैं. दुल्ह’न के परि’जनों को शा’दी पंजी’कृत कर’वानी हो’गी. दुल्ह’न क’म से क’म 10वीं त’क की पढ़ा’ई की हो.

ग’रीब परि’वार को मि’लेगी रा’हत इस’के अला’वा दुल्ह’न के परि’वार की सा’लाना आ’मदनी 5 ला’ख रुप’ये से क’म हो’नी चाहि’ए. अरुं’धति स्व’र्ण यो’जना का ला’भ लड़’की की पह’ली शा’दी प’र ही मि’लेगा. या’नी दू’सरी शा’दी क’रने प’र इ’स योज’ना का ला’भ न’हीं मि’लेगा. इ’स स्की’म के तह’त ग’रीब परिवा’रों को का’फी म’दद मिले’गी. अस’म स’रकार ने 2019-20 में अ’रुंधति गो’ल्ड यो’जना के लि’ए 300 क’रोड़ रुप’ये का प्रा’वधान कि’या था.

कै’से मिले’गा सो’ना दु’ल्हन को जेव’रात न’हीं दि’ए जा’ते हैं, या’नी तोह’फे में सो’ना फि’जिकल फॉ’र्म में न’हीं दि’या जाए’गा. शा’दी के र’जिस्ट्रेशन औ’र वेरि’फिकेशन के बा’द 30,000 रुप’ये दुल्ह’न के बैं’क अ’काउंट में ज’मा कि’ए जा’एंगे. उ’सके बा’द दु’ल्हन के परि’जनों द्वा’रा ख’रीदे ग’ए 30 ह’जार रुप’ये के जेव’रात के बि’ल ज’मा क’रने हों’गे.

दर’असल सर’कार का उद्दे’श्य है कि इ’न पै’सों का इस्तेमा’ल कि’सी दूस’रे का’म में न’हीं कि’या जा’ए. इ’स योज’ना का उ’द्देश्य आ’र्थिक तौ’र प’र कम’जोर मा’ता-पि’ता को कु’छ राह’त पहुं’चाना है. सर’कार की ओ’र से दि’या ग’या सो’ना लड़’की को भी आ’र्थिक तौ’र प’र मज’बूत बना’ता है.

ला’भ उठा’ने के लि’ए शा’दी को स्पे’शल मैरि’ज ए’क्ट 1954 के तह’त र’जिस्टर करा’ना हो’गा. सा’थ ही जि’स लड़’की की शा’दी हो र’ही है उ’सकी उ’म्र क’म से क’म 18 सा’ल औ’र ल’ड़के का 21 सा’ल हो’नी चा’हिए. सर’कार को उम्मी’द है कि य’ह यो’जना गरी’ब परि’वारों को सर’कार की ए’क निशा’नी के तौ’र प’र जा’नी जा’एगी.

अरुंध’ति गो’ल्ड स्की’म के त’हत ला’भ उठा’ने के लि’ए revenueassam.nic.in प’र जा’कर ऑ’नलाइन फॉ’र्म भर’ना हो’गा. ऑन’लाइन फॉ’र्म भर’ने के बा’द इस’का प्रिं’टआउट निका’लना हो’गा. ऑन’लाइन के सा’थ-सा’थ प्रिंटआ’उट को भी ज’मा कर’ना हो’ता है. आ’पकी एप्ली’केशन मं’जूर हु’ई या न’हीं इस’के बा’रे में आप’को एसए’मएस से प’ता च’ल जाए’गा.