Categories
News

अभी अभी योगी सरकार ने डॉक्टरों पर कसा बड़ा शि’कंजा, अब 10 साल तक सरकारी अस्पताल में……..

खबरें

उत्तरप्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद से ही सत्ता में आये सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक के बाद एक बड़े फैसले लिए हैं. सीएम योगी द्वारा लिए गये कई फैसले तो ऐसे हैं जिनकी अन्य राज्यों ने सराहना की और अपने राज्य में भी उन योजनाओं को लागू किया. वहीँ राज्य में अपराधियों के खिलाफ़ पिछले काफी समय से योगी सरकार की कार्रवाई जारी है. इसी बीच एक और बड़ी खबर आ रही है.

जानकारी के लिए बता दें उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक और बड़ा फैसला लिया है. जी हाँ सीएम योगी ने इस बार उत्तरप्रदेश के डॉक्टरों को लेकर बड़ा फैसला ले लिया है. फैसले के तहत अब पीजी करने के बाद डॉक्टरों को कम से कम 10 साल तक सरकारी अस्पतालों में सेवाएं देनी होगी. स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव ने इस संबंध में जानकारी दी है.

सीएम योगी के इस फैसले के साथ ही ये भी बताया गया है कि अगर कोई डॉक्टर बीच में नौकरी छोड़कर जाता है या छोड़ना चाहता है तो उसे एक करोड़ रूपये की राशि जुर्माने के तौर पर यूपी सरकार को भुगतान करनी होगी. अचानक से डॉक्टरों को लेकर लिए गये फैसले के बाद राज्य में हलचल मच गयी है.

गौरतलब है कि अधिकारियों ने ये भी बताया है कि अगर कोई डॉक्टर पीजी कोर्स बीच में ही छोड़ देता है तो उसे तीन साल के लिए डिबार कर दिया जायेगा. मतलब वो इन तीन सालों में दोबारा से दाखिला नही ले पायेगा. साथ ही डॉक्टर की पढाई पूरी करने के बाद चिकित्साधिकारी को तुरंत नौकरी जॉइन करनी होगी. वहीँ अब पीजी के बाद सरकार डॉक्टरो को सीनियर रेजीडेंसी में रुकने पर भी रोक लगा दी गयी है.