Categories
News

अ’रे बा’प रेे! क’च्चे आ’लू का सेव’न क’रने के अनो’खे फा’यदे जानकर चौं’क जा’एंगे आ’प…

ह हिंदी खबर

नई दिल्ली: आसमान छू रहे आलू के दामों में जल्द ही राहत खबर मिल सकती है। नवंबर के शुरूआती दौर से सब्जियों के दामों में काफी इजाफा देखने को मिला है। सब्जी के बढ़ते दामों ने किचन के हिसाब-किताब को बिगाड़ दिया है। लेकिन किचन के बिगड़ते बजट को अब जल्द ही राहत मिल सकती है। इस खुशखबरी की सबसे बड़ी वजह से पश्चिम बंगाल से सप्लाई बढ़ना है।

आलू के बढ़ते दामों में जल्द मिलेगा राहत

बता दें कि आलू के बढ़ते दामों में जल्द ही राहत मिल सकता है। इस राहत के पीछे पश्चिम बंगाल का हाथ हो सकता है, क्योंकि बंगाल में आलू के सप्लाई को बढ़ाई जाएगी, जिससे इसके दामों में गिरावट हो सकती है। हालांकि अभी तक बंगाल में आलू का दाम 50 रुपये किलो बिक रहा है। वहीं बिहार के दरभंगा में 45 रुपये, यूपी के प्रयागराज में 45 रुपये और दिल्ली-एनसीआर में 50 रुपये किलो आलू बिक रहा है।

30 नवंबर तक बचे स्टॉक को निपटाने का आदेश

जानकारी के मुताबिक पश्चिम बंगाल की सरकार ने 27 नवंबर को एक नोटिस जारी की थी, जिसमें सभी कोल्ड स्टोरेज मालिकों को यह आदेश दिया गया है कि वह 30 नवंबर तक अपने बचे आलू के स्टॉक को जल्द से जल्द निपटा दें, अगर कोई कोल्ड स्टोरेज मालिक ऐसा नहीं करता है , तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। एक अधिकारी ने कहा, “पिछले तीन दिन में आलू की कीमतों में कोल्ड स्टोरेज गेट पर 5 रुपये प्रति किलोग्राम की कमी आई है और आगे भी गिरावट आएगी।”

Cold Storage Association ने दी जानकारी

West Bengal Cold Storage Association के एक अधिकारी ने कहा कि कोल्ड स्टोरेज गेट पर पिछले 3 दिनों में आलू के दामों में गिरावट हुई है। इन तीन दिनों में आलू के दाम में 5 रुपये प्रति किलो की गिरावट हुई है। आलू के दामों में कमी को देखते हुए यह उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले समय में आलू के दामों में लगभग 28 रुपये तक घट सकती है। इससे स्थानीय बाजारों में आलू के खुदरा दाम 40 रुपये किलो से नीचे जाने में मदद मिलेगी। सात दिसंबर तक लगभग 50 फीसदी कोल्ड स्टोरेज अपने स्टॉक खाली कर सकेंगे, जबकि बाकी में यह दिसंबर मध्य तक खाली होंगे।

स्टॉक को खाली करने में लगेगा समय

अधिकारी ने आगे बताया कि वर्तमान में लगभग 6-8 लाख टन यानी 10 फीसदी आलू अभी भी कोल्ड स्टोरेज में पड़ा हुआ है और उन्हें कोल्ड स्टोरेज मालिकों के साथ तालमेल बनाते हुए स्टॉक को खाली करने में कुछ और समय लगेगा।