Categories
News

शा’दी के स’मय ह’र ल’ड़की के दि’माग में आ’ते हैं ये 5 उ’ल्टे सी’धे सवा’ल, म’र्दों का जा’नना है ब’हुत ज’रूरी, जा’निए…

हिंदी खबर

शा’दी का ख्वा’ब ह’र कि’सी के म’न में हो’ता है। ल’ड़का हो या लड़’की शा’दी को लेक’र दो’नों के दिमा’ग में उ’थल पुथ’ल म’ची रह’ती है। दो’नों य’ही चा’हते हैं कि उन’का जीव’नसाथी ठी’क वै’सा हो जै’सा उन्हों’ने सो’चा है। अ’पने भा’वी जीव’न को ले’कर उन’के म’न में क’ई ख्वा’ब औ’र ख्वाहि’शें हो’ती हैं। ले’किन लड़’की के त’रफ से शा’दी को ले’कर ए’क तस्वी’र ब’सी हो’ती है, ज’हां स’ब कु’छ बहु’त रोमां’टिक औ’र प’रफेक्ट हो’ता है। इत’ना ही न’हीं लड़कि’यों के म’न में अ’पने सा’थी को ले’कर क’ई उटप’टांग स’वाल भी आ’ते हैं। आ’इए जान’ते हैं इ’न सवा’लों के बा’रे में….

अ’गर नारा’ज हो ग’या तो कै’से मना’ऊंगी
प्या’र के रि’श्ते में हं’सी-मजा’क औ’र नो’कझोंक तो आ’म बा’त हो’ती है। ले’किन क’भी-क’भी य’ही हं’सी-मजा’क भा’री प’ड़ जा’ती है औ’र वो ना’राज हो जा’ते हैं। अ’ब नारा’ज आ’पसे हु’ए हैं तो मना’ना भी आप’को ही प’ड़ेगा। ‘रू’ठे-रू’ठे पि’या म’नाऊं कै’से…’  अच्छा’जी मैं हा’री च’लो मा’न जा’ओ ना…’ ‘दे’खो रू’ठा ना क’रो, बा’त न’ज़रों की सु’नो…’ जै’से कु’छ ए’वरग्रीन बॉ’लीवुड गा’ने य’हां आप’की म’दद करें’गे। उ’न्हें गाक’र सु’नाएं या फि’र गा’ना उ’न्हें व्हा’ट्सऐप क’र दें। आ’पकी इ’स अ’दा प’र वो ज्या’दा देर ना’राज न’हीं र’ह पाएं’गे।

मे’रे न’खरे उ’ठा पाए’गा
वै’से तो लड़’कियां स्वभा’व से नख’रीली हो’ती हैं लेकि’न वो स’भी से न’खरे न’हीं क’रती हैं। उ’न्हें अ’च्छी तर’ह प’ता हो’ता है कि कौ’न उन’के न’खरे ब’र्दाश्त क’र सक’ता है औ’र कौ’न न’हीं। व’हीं बा’त ज’ब शा’दी की आ’ती है तो उ’नके दि’माग में ए’क ही सवा’ल आ’ता है कि क्या ये (भा’वी प’ति) मे’रे न’खरे उ’ठा पाए’गा? इस’का बा’त का प’ता ल’गाने के लि’ए वो क’भी-क’भी अटप’टी हर’कतें भी कर’ती हैं, जै’से- अ’पनी सहू’लियत की ज’गह औ’र सम’य के मुताबि’क लड़’के को मि’लने बु’लाना, जि’द कर’के कु’छ खरीद’वाना, खा’ने-पी’ने में जि’द कर’ना आ’दि।

क्या मु’झे अप’ना ब्लैं’केट शेय’र कर’ना पड़े’गा?
क’ई लड़’कियां ऐ’सी हो’ती हैं, जो अ’पने सा’मान को लेक’र बहु’त पजे’सिव रह’ती हैं। को’ई औ’र अग’र उन’के ची’जों का इस्तेमा’ल क’र ले तो हंगा’मा क’र दे’ती हैं। ले’किन शा’दी त’य हो जा’ने के बा’द उ’नके दि’माग में ए’क ही स’वाल घूम’ने लग’ता है कि क्या उ’न्हें अ’पने सा’मान को शेय’र क’रना पड़े’गा ? ले’किन ज’रूरी न’हीं कि शा’दी के बा’द आप’को ह’र ज’गह एडज’स्टमेंट्स कर’ने प’ड़ें। इ’स बा’रे में अप’ने पा’र्टनर से खु’लकर बा’तें क’रें।

क’हीं म’म्मी से मे’री शि’कायत न क’र दे
लड़’कियों को अ’पनी रेप्युटेश’न स’बसे ज्या’दा प्या’री हो’ती है। खा’सकर शा’दी के बा’द ससु’राल में वो चाह’ती हैं कि ह’र को’ई उ’नकी तारी’फ क’रे।ऐ’से में म’म्मी से अप’नी शि’कायत को ले’कर वो सब’से ज्या’दा डर’ती हैं औ’र य’ह बा’त स’ब लड़’कों को प’ता हो’ती है, त’भी तो शा’दी के बा’द ज्यादात’र प’ति य’ही धम’की दे’ते हैं कि म’म्मी जी को ब’ता दूं…

मे’री पह’चान न खो जा’ए
शा’दी हो’ने से प’हले अ’क्सर लड़’कियों के दि’माग में य’ह बा’त घूम’ती रह’ती है कि क’हीं बं’धन में बं’धने के बा’द उन’की पह’चान न खो जा’ए। सब’से पह’ले तो आ’प इ’स बा’त को अप’ने दि’ल से ए’कदम नि’काल दें कि आ’पकी पह’चान आ’पसे छी’न ली जा’एगी, ब’ल्कि शा’दी आ’पको क’ई न’ए रि’श्ते, ना’म औ’र पह’चान दिला’एगा। अ’गर आ’पके घर’वाले या’नी मा’यके में लो’ग निक’नेम से बुला’ते हैं प’र स’सुराल वा’ले न’हीं, तो बि’ल्कुल ना उदा’स हों। आ’पके प’ति ने आप’को को’ई ल’व ने’म औ’र न’नद-दे’वर ने कु’छ न’ए नि’क ने’म दि’ए हों’गे, तो उ’न्हें एं’जॉय क’रे।