Categories
News

छ’त प’र नो’टों का बै’ग: ग’ड्डियां दे’ख हि’ल ग’या पू’रा परि’वार, फें’क दि’ए इत’ने पै’से….

हिंदी खबर

मेर’ठ: क’हते हैं कि ऊ’पर वा’ला ज’ब भी दे’ता है, छ’प्पड़ फा’ड़ क’र दे’ता है। ऐ’सा ही कु’छ हु’आ उ’त्तर प्रदे’श के मेर’ठ (Meerut) के रह’ने वा’ले ए’क परि’वार के सा’थ। धन’तेरस (Dhanteras) से प’हले इ’स परि’वार को उन’के घ’र की छ’त प’र ला’खों रुप’ये कै’श औ’र महं’गे गह’नों से भ’रे दो बै’ग मि’ले। जि’से दे’ख परि’वार हैरा’न हो ग’या। लेकि’न परि’वार वा’लों ने ला’लच ना क’रते हु’ए इ’स माम’ले में पुलि’स को जान’कारी दी। व’हीं घ’टना की सूच’ना पाक’र मौ’के प’र पहुं’ची पुलि’स ने जां’च में पा’या कि ये कै’श औ’र गह’ने प’ड़ोस में हु’ई चो’री का है।

पड़ो’स में हु’ई थी कै’श औ’र गह’नों की चो’री

मि’ली जानका’री के मुता’बिक, मेर’ठ के मि’शन कंपा’उंड ए’रिया में मंग’लवार को प’वन सिंघ’ल के घ’र में चो’री हो ग’ई थी। चो’र ने उन’के घ’र से क’रीब 40 ला’ख रुप’ये की कै’श औ’र जे’वर की चो’री की थी। फि’र उ’सके अग’ली सु’बह पड़ो’स में रह’ने वा’ले व’रुण श’र्मा को अप’ने घ’र की छ’त प’र दो बै’ग दे’खे, जिस’में भर’कर कै’श औ’र गह’ने थे। ये स’ब दे’ख वरु’ण श’र्मा प’हले तो है’रान र’ह ग’ए।

14 ला’ख रुप’ये के मि’ले कै’श

लेकि’न ज्या’दा दे’र ना क’रते हु’ए वरु’ण श’र्मा ने पुलि’स को इ’स माम’ले में जान’कारी दी। व’हीं घट’ना की सू’चना पा’कर मौ’के प’र पहुं’ची पुलि’स ने ज’ब माम’ले की जां’च की तो पा’या कि ये कै’श औ’र जे’वर प’ड़ोस में हु’ई चो’री का है। उ’स बै’ग में 14 ला’ख रुप’ये नक’दी मि’ले हैं, व’हीं गह’नों की कीम’त का आंक’लन कि’या जा र’हा है।

पुलि’स को व्यापा’री के पुरा’ने नौ’कर प’र है श’क

मा’ना जा र’हा है कि चो’री के बा’द चो’रों ने ये मा’ल वरु’ण के घ’र की छ’त प’र छि’पा क’र र’खा दि’या था, ता’कि बा’द में इ’से आ’सानी से पा’र कि’या जा स’के। इ’स मा’मले में पु’लिस को व्या’पारी के पु’राने नौ’कर प’र श’क है। जान’कारी के मु’ताबिक, नौक’र ने दो सा’ल पह’ले ही का’म छो’ड़ कि’या था। लेकि’न घट’ना के दि’न सीसी’टीवी कै’मरे में व’हीं नौक’र दिखा’ई दि’या था। मा’मले में पुलि’स ने फि’लहाल ए’क गा’र्ड को हिरा’सत में लि’या है। पु’लिस को गा’र्ड प’र प’र नौ’कर द्वा’रा चो’री की रक’म दे’ने का श’क है।