Categories
News

बी’मार प’ति को पी’ठ प’र ला’द, अ’स्पताल में चक्क’र का’टती र’ही ये महि’ला, डॉ’क्टर ने कि’या….

हिंदी खबर

धी’रेंद्र प्रता’प सिं’ह, प्रता’पगढ़
यू’पी के प्रता’पगढ़ स्थि’त जि’ला अस्प’ताल की अव्य’वस्था को उजा’गर क’रने वा’ली यह तस्‍वी’र मानव’ता को श’र्मसार भी कर’ती है। ए’क महि’ला अप’ने बी’मार प’ति को डॉ’क्‍टर के पा’स दिखा’ने ले आ’ती है। बी’मार प’ति खु’द च’लने की हा’लत में न’हीं है। मरी’ज को ज’ब स्‍ट्रेच’र न’हीं मि’ल पा’ता तो महि’ला प’ति को अ’पनी पी’ठ प’र ला’दकर ले जा’ने प’र मज’बूर हो जा’ती है। खा’स बा’त य’ह कि व’हां उस’की मद’द कर’ने वा’ला को’ई न’हीं मिल’ता। ना तो अस्‍प’ताल के कि’सी कर्म’चारी ने औ’र ना ही कि’सी ती’मारदार ने उस’की सहा’यता क’रने की जरूर’त स’मझी। म’हिला का य’ह वीडि’यो सो’शल मीडि’या प’र वाय’रल हो ग’या है।
प्रता’पगढ़ के जि’ला अस्‍प’ताल में स्वा’स्थ्य से’वाओं का बु’रा हा’ल, ज’रा दे’खिए
पी’ड़ित महि’ला शो’भा का क’हना है कि व’ह प्रता’पगढ़ शह’र में किरा’ए प’र रह’ती है। व’ह मू’ल रू’प से अ’मेठी जि’ले के निवा’सी है। व’ह अप’ने बीमा’र प’ति रा’धेश्याम का इ’लाज करा’ने के लि’ए शु’क्रवार को जि’ला अस्प’ताल पहुं’ची। पह’ले तो व’ह का’फी दे’र त’क स्ट्रे’चर ढूंढ’ती र’ही औ’र कर्म’चारियों से मद’द भी मां’गी, ले’किन उ’से व’ह न तो स्ट्रेच’र मि’ला औ’र ना ही कि’सी कर्म’चारी ने उन’की कि’सी त’रीके से म’दद की।

महि’ला ने इं’तजार न’हीं कि’या हो’गा: मु’ख्य चिकि’त्साधीक्षक
खा’स बा’त य’ह है की अस्प’ताल में इ’लाज करा’ने के लि’ए पहुं’चे कि’सी भी तीमार’दार ने भी इ’स महि’ला की को’ई म’दद न’हीं की है औ’र व’ह भी तमा’शबीन ब’ने र’हे। व’ही, इ’स मा’मले प’र मु’ख्य चिकि’त्साधी’क्षक पी’पी पां’डेय ने गैर’जिम्‍मेदाराना बया’न दे’ते हुए क’हा कि अस्पता’ल में ह’र स’मय 5 या 6 स्‍ट्रेच’र रह’ते हैं। रो’ज अस्‍प’ताल में क’रीब मरी’ज 500 आ’ते हैं। ऐ’से में तु’रंत स’बको स्‍ट्रेच’र उप’लब्‍ध क’राना असं’भव है। महि’ला ने इंत’जार न’हीं कि’या हो’गा।
प’ति को पी’ठ प’र ले जा’ती महि’ला