Categories
News

यो’गी सरकार ने आ’जम खॉ’न को दिया एक और बड़ा झ’टका, अब करना होगा……..

हिंदी खबर

उ’त्तर प्रदे’श की यो’गी स’रकार ने समा’जवादी पा’र्टी के सां’सद और प्र’देश के पू’र्व नग’र विकास मं’त्री आ’जम खां को एक और झ’टका दिया है। आ’जम की बहन के नाम रा’जधानी की रि’वर बैं’क कॉ’लोनी में बं’गले का आ’वंटन नि’रस्त कर दिया गया है। नगर नि’गम की ओर से आ’जम की बहन नक’हत अफ’लाक को 15 दि’नों के भी’तर बंग’ला खाली करने का आ’देश जारी किया गया है। यह बंग’ला 13 साल पहले आ’जम खां की बह’न को किराये पर आ’वंटित कि’या गया था।

शिका’यती प’त्र के आ’धार पर का’र्रवाई
मु’ख्यमं’त्री को भे’जे गए एक शि’कायती प’त्र के आ’धार पर बंग’ला नि’रस्तीकर’ण करने की यह का’र्रवा’ई की गई है। द’रअस’ल रा’मपुर के रहने वाले मु’स्तफा हुसै’न ने इस बा’बत मु’ख्यमं’त्री को 8 जु’लाई को प’त्र लिखा था।

इस प’त्र में अ’वैध तरी’के से आज’म खां की बहन को बंग’ला आ’वंटन करने की शि’कायत की गई थी। मु’ख्यमं’त्री को भेजे गए इस प’त्र की ख’बर बाहर आने के बाद न’गर निग’म में हड़’कंप म’च गया था।

2007 में किया गया था आ’वंटन
रि’व’र बैं’क कॉ’लोनी में आ’जम की बहन को जो बंग’ला आवं’टित किया गया था उसका नं’बर ए- 2/1 है। इसे नग’र निग’म की ओर से 2007 में आ’जम की ब’हन नक’हत को कि’राये पर आवं’टित किया गया था। मु’ख्यमं’त्री का’र्यालय में प’त्र पहुं’चने के बाद न’गर नि’गम की ओर से बंग’ले की जां’च की गई थी मगर उस स’मय बंग’ले पर ता’ला बं’द मिला था।

ये भी पढ़ेंः बॉली’वुड में फिर को’रोना अ’टैक: अब इस सिं’गर की हा’लत बिग’ड़ी, हुआ सं’क्रमण

बा’द में नग’र निग’म की ओर से आज’म की बहन को नो’टिस जा’री की गई थी। नो’टिस के जवा’ब में नक’हत ने इस बंग’ले में रहने की बात नग’र निग’म को बताई थी।

फ’र्जी प’ते पर कराया था आ’वंटन
राम’पुर के मु’स्तफा की ओर से भे’जी गई शि’कायत में कहा गया था कि आज’म की बहन न’कहत स्था’यी रू’प से रामपुर की निवासी हैं। वे राज’कीय कमल ल’का जूनिय’र हा’ईस्कूल, राम’पुर में का’र्यरत थीं। इस कार’ण वे लख’नऊ में निवास भी नहीं करती थी। शिका’यत में बताया गया था कि इंदि’रा नगर के फ’र्जी प’ते पर उ’न्होंने बंग’ले का आवं’टन कराया था।

जां’च में हुआ बड़ा खुला’सा
नग’र निग’म की ओर से की गई जां’च में पता चला कि आज’म की बहन को पह’ले जी 11 बं’गला आवं’टित हुआ था म’गर बाद में उ’न्हें आ’लीशान ए-2/1 बंग’ला आवं’टित कर दिया गया। जां’च में यह भी खुला’सा हुआ कि उस समय आजम की बहन न तो किसी सरका’री से’वा में थीं और न ही वे लख’नऊ में कार्य’रत थीं। लख’नऊ न’गर निग’म की ओर से उन्हें 15 दिनों के भी’तर बंग’ला खा’ली करने की नो’टिस जा’री कर दी गई है।