Categories
Other

ते’लंगाना के ए’सी’पी के 25 ठि’कानों पर पड़ा छा’पा, सं’पत्ति देख होश उड़ गए ACB अधिकारी के

रेड्डी की सं’पत्तियों का सरकारी मूल्य 7.5 करोड़ रुपये था, जबकि उसी संपत्ति का स्थानी’य बाजार मूल्य लगभग 70 करोड़ रुपये था. एसीबी के अ’धिकारियों का आरोप है कि उ’न्होंने अपनी सेवा के दौरान भ्र’ष्टचार और सं’दिग्ध तरीकों से इन सं’पत्तियों को खरीदा था.

एक गुप्त सूचना के आ’धार पर, बुधवार को एक हैदराबाद, वारंगल, जगांव, नलगोंडा, करीम’नगर जिलों और अनाथपुर में एक साथ 25 स्थानों पर रेड्डी के खिलाफ तलाशी अ’भियान च’लाया गया. इन छा’पों के दौरान, अ’धिकारियों ने अनंतपुर में 55 एकड़ कृषि भूमि, मा’धापुर में सा’इबर टावर्स,  दो अन्य भूखंडों के अलावा 1,960 गज के चार भू’खंडों का पता लगाया.

इतना ही नहीं हा’फिजपेट में एक वा’णिज्यिक जी+3 भवन, दो घर के द’स्तावेज और 15 ला’ख रुपये नकद बरामद किए गए. एएनआई की रिपोर्ट के अ’नुसार, अधि’कारी ने दो बैंक लॉकर, रि’यल एस्टेट और कई अन्य का’रोबारों में भी नि’वेश कर रखा था.

एसी’पी काफी पहले से एंटी क’रप्शन ब्यू’रो के र’डार पर थे. अधिकारियों के मु’ताबिक आरोपी अफसर ने अपनी सेवा के दौरान करप्शन और सं’दिग्ध साधनों का इस्तेमाल करके आय से अधिक सं’पत्ति अ’र्जित की है. ACB ने उन्हें गि’रफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया.

तेलंगाना में एंटी कर’प्शन ब्यूरो (ACB) ने मलकजगिरी डिवीजन के एसीपी या’ल्माकुरी नर’सिम्हा रेड्डी के खि’लाफ 70 क’रोड़ रुपये से ज्या’दा की अज्ञात सं’पत्ति को लेकर केस दर्ज किया है. रेड्डी ने साल 1991 में पुलिस विभाग में ब’तौर सब-इं’स्पेक्टर नौकरी ज्वॉइन की थी.