Categories
News

को’रोना पर पीएम मोदी ने की हाई लेबल मी’टिंग, की इन रा’ज्यों से….

वैश्वि’क महा’मारी को’रोना वायरस को लेकर प्रधा’नमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुध’वार को हाई लेवल मी’टिंग की। उन्होंने म’हाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, क’र्नाटक समेत सात राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमं’त्रियों एवं स्वास्थ्य मंत्रि’यों के साथ बातचीत की। इस बैठक में उन रा’ज्यों को शा’मिल किया गया है, जो कोरोना वाय’रस से सबसे ज्यादा प्रभा’वित हैं।

कोरो’ना वायरस के तकरीबन 63 फीसदी सक्रिय मामले इन सात राज्यों में हैं। इस बैठक में दिल्ली के अरविंद के’जरीवाल, महा’राष्ट्र के उद्धव ठाकरे, आंध्र प्रदेश के जगन मोहन रेड्डी, कर्नाटक के येदि’युरप्पा समेत अन्य मु’ख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री शामिल हुए। वर्चुअल मी’टिंग में गृह मंत्री अ’मित शाह और कें’द्रीय रक्षा मंत्री राज’नाथ सिंह भी शा’मिल रहे।

देश में कोरो’ना के कुल पुष्ट माम’लों का तकरीबन 65 फीसदी और कुल मृ’त्यु के 77 फीसदी मामले भी इन्हीं रा’ज्यों और केंद्र शा’सित प्रदेशों से हैं। पंजाब, दिल्ली और अन्य पांच राज्यों में हाल ही में कुल मामलों की सं’ख्या में का’फी तेज वृद्धि दर्ज की गई है। महा’राष्ट्र, पंजाब और दिल्ली में मृतकों की सं’ख्या भी काफी बढ़ी है। इन राज्यों में मृ’त्यु दर दो प्रति’शत से अधिक है जो कि मृ’त्यु दर का उ’च्च औसत है।

बुनियादी सुविधाओं को बढ़ाने में मदद कर रही कें’द्र सरकार’

बैठक को लेकर मंग’लवार को जारी बयान में कहा गया था कि केंद्र सरकार राज्यों और सं’घ शासित प्रदे’शों के प्र’भावी सहयोग और निकट स’मन्वय के साथ मिलकर कोविड-19 महा’मारी के खिलाफ लड़ाई का ने’तृत्व कर रही है। केंद्र सर’कार उनकी स्वा’स्थ्य सेवा और चिकित्सा बुनियादी सुविधाओं को बढ़ाने के लिए लगातार सहा’यता कर रही है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा एम्स नई दिल्ली के सहयोग से किए गए ई-आईसीयू टेली-परामर्श के मा’ध्यम से आई’सीयू का संचा’लन करने वाले डॉ’क्टरों की नैदा’निक प्र’बंधन क्षम’ताओं को काफी हद तक बेह’तर किया गया है।