Categories
Other

नवरात्री 2020 : कब से शुरू होगी शारदीय नव’रात्रि ? जानें स्थापना से लेकर नव’रात्रि तक का’र्यक्रम…

पि’तृपक्ष (Pitra paksha 2020) समाप्त होने के साथ ही शारदीय नवरात्रि शुरू हो जाते हैं. हालांकि इस साल ऐसा नहीं हुआ है. 17 सितंबर को श्राद्ध अ’मावस्या के बाद पि’तृपक्ष समाप्त हो चुके हैं. लेकिन हिंदू पंचांग के अनुसार इस बार शारदीय नवरात्रि (Shardiya navratri 2020) अगले महीने 17 अक्टूबर से शुरू होंगे और 25 अ’क्टूबर तक रहेंगे. इस बीच पूरे नौ दिन मां दुर्गा (Maa durga) के नौ स्वरूपों की उ’पासना होगी. आइए आपको न’वरात्रि के देरी से शुरू होने की वजह और पूरे 9 दिन के का’र्यक्रम की जानकारी देते हैं.

क्यों देरी से शुरू हो रहे नवरात्रि?
ज्योतिषविदों के मु’ताबिक, श्राद्ध के बाद अ’धिकमास (Adhikmaas 2020) लगने के कारण इस बार नवरात्रि (Navratri 2020) एक महीने देर से शुरू हो रहे हैं. अधिकमास की वजह से ना सिर्फ न’वरात्रि, बल्कि दशहरा और दीपावली भी देरी से शुरू होंगे. 25 नवंबर को देव’उठनी ए’कादशी होगी. जिसके साथ ही चातुर्मास स’माप्त होंगे. इसके बाद ही विवाह, मुंडन आदि मंगल कार्य शुरू होंगे.

क्या है अधिकमास?
हिन्दू पंचांग में बारह मास होते हैं. यह सूर्य की सं’क्रांति और चन्द्रमा पर आधारित होते हैं. हर वर्ष सूर्य और चन्द्र मास में लगभग 11 दिनों का अंतर आ जाता है. इस अंतर को पाटने के लिए हर तीसरे वर्ष एक अ’तिरिक्त मास बढ़ जाता है, जिसे अ’धिकमास कहते हैं. इसे लोकाचार में मलमास भी कहा जाता है. अधिमास में शुभ कार्य व’र्जित माने जाते हैं.

शारदीय नवरात्रि का कार्यक्रम
17 अक्टूबर- मां शैलपुत्री पूजा घटस्थापना
18 अक्टूबर- मां ब्रह्मचारिणी पूजा
19 अक्टूबर- मां चंद्रघंटा पूजा
20 अक्टूबर- मां कुष्मांडा पूजा
21 अक्टूबर- मां स्कंदमाता पूजा
22 अक्टूबर- षष्ठी मां कात्यायनी पूजा
23 अक्टूबर- मां कालरात्रि पूजा
24 अक्टूबर- मां महागौरी दुर्गा पूजा
25 अक्टूबर- मां सिद्धिदात्री पूजा