Categories
News

आ गया महाप्रलय यहां मची भयानक तबाही! अब आसमान से आएगी मदद….

हिंदी वायरल खबर

बेंगलुरु. मानसून ने इस बार देश में भयानक कहर ढाया। अभी भी देश के कई हिस्सों में भारी बारिश का दौर जारी है। इसी कड़ी में मूलाधार बारिश कर्नाटक में तबाही का सबब बनी हुई है। यहां कई क्षेत्रों में तेज बरसात से फसले तो तबाह हो ही गयीं लोगों के घर भी डूब गए। सबसे ज्यादा प्रभावित उडुपी जिला है। राज्य सरकार ने लोगों की मदद के लिए आपदा मोर्चा बल के कर्मियों को निर्देशित किया है, जो राहत बचाव कार्य में लगे हुए हैं।

कर्नाटक में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात

दरअसल, कर्नाटक में भारी बारिश से हालात काफी खराब है। उडुपी समेत कई जिले तेज बरसात के पानी में डूब चुके हैं। फैसले बर्बाद हो गयी हैं।मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक, कर्नाटक में दक्षिणी-पश्चिम मानसून की दूसरी लहर राज्य से टकरायी है, जबकि उत्तरी कर्नाटक में आयी बाढ़ से राज्य अब तक ठीक से उबरा भी नहीं हैं।

उडुपी समेत कई जिलों में अलर्ट जारी

ऐसे में हालात तब और बिगड़ गए जब तेज बारिश ने एक बार फिर से कई जिलों में दस्तक दी। कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र (KSNDMC) के मुताबिक़, राज्य के मलनाड, तटीय क्षेत्र और कुछ आंतरिक और उत्तरी जिलों में अगले कुछ दिनों तक भारी बारिश के आसार हैं। ऐसे में इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

फसले तबाह, डूबे गांव-मकान धराशायी

बताया जा रहा है कि बारिश से उडुपी में स्थिति बेहद गंभीर है। इस जिले के कई गांव पानी में डूब चुके हैं। बाढ़ के कारण कई मकान धराशायी हो गए हैं। अधिकांश सड़के बह गयीं। रास्ते ठप हैं और खेत व फंसले तबाह हो गयीं।

बचाव कार्य और राहत सामग्री के लिए लगाया जाएगा हेलीकॉप्टर

राज्य के ऐसे भयावर हालातों के बारे में राज्य गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने बताया कि उडुपी जिला प्रशासन को तत्काल राहत कदम उठाने के निर्देश दिए जा चुके हैं। इसके अलावा राजस्व मंत्री आर अशोक से बचाव कार्य में वायु सेना का एक हेलीकॉप्टर लगाने का भी आग्रह किया जाएंगे। ताकि बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में हेलीकॉप्टर की मदद से बचाव कार्य और राहत सामग्री पहुंचाई जा सकें।