Categories
News

एक ह’फ्ते में हो’गी पूरी 31661 शि’क्षकों की भर्ती, CM यो’गी दे’गे…..

उ’त्तर प्र’देश में 69000 शि’क्षकों की भ’र्ती के मा’मले में उत्तर प्र’देश स’रकार ने उ’म्मीदवारों को राहत की ख’बर दी है.  स’रकार 31661 पदों पर शिक्षकों की भर्ती के लिए प्र’क्रिया एक हफ्ते में पूरी करेगी. 31661 शि’क्षकों की नियुक्ति प्र’क्रिया तेज कर दी गई है. इन शि’क्षकों के नियुक्ति पत्र (Appointment letter) खुद राज्य के मु’ख्यमंत्री योगी आ’दित्यनाथ बांटेंगे. इस बात की जा’नकारी योगी आदित्यनाथ ऑ’फिस के आ’धिकारिक ट्विटर अ’काउंट के मा’ध्यम से मिली है.

जि’समें लि’खा है, “बे’सिक शि’क्षा वि’भाग में 31,661 स’हायक अ’ध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया को एक स’प्ताह में पूरा करने के नि’र्देश दिए गए हैं. उ’न्होंने कहा है कि प्रदेश स’रकार यु:वाओं को नौ’करी सहित रो’जगार के प’र्याप्त अवसर उ’पलब्ध क’राने के लिए कृ’तसंकल्पित है.”

आ’पको बता दें, बे’सिक शि’क्षा वि’भाग द्वा’रा स’हायक अ’ध्यापकों के 69,000 रि’क्त प’दों पर भ’र्ती के लिए 06 ज’नवरी, 2019 को टी.ई.टी. की प’रीक्षा क’राई गई थी.

रा’ज्य स’रकार के एक प्र’वक्ता ने कहा 7 ज’नवरी, 2019 के एक सरकारी आदेश के अ’नुसार, रा:ज्य स’रकार ने सा’मान्य श्रे’णी के उ’म्मीदवारों की नियुक्ति के लिए न्यू’नतम प्र’तिशत के रूप में 65% और पिछड़े और अ’न्य आ’रक्षित व’र्गों के उ’म्मीदवारों के लिए 60% तय किया है. आ’पको बता दें, इससे पहले यूपी सर’कार 54706 शि’क्षकों की भ’र्ती कर चुकी है.

जा’नें- क्या है मा’मला

द’रअसल, यूपी स’रकार ने 69000 स’हायक अ’ध्यापकों के पदों पर भ’र्ती नि’काली थी, ले’किन शि’क्षामित्रों की या’चिका पर सु’नवाई क’रते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को 69,000 सीटों पर 37,339 पदों पर भ’र्ती रो’कने का आ’देश दिया था. शेष 31,661 प’दों की भर्ती पर कोई प्र’तिबंध नहीं था.

मु’ख्यमंत्री यो’गी आ’दित्यनाथ ने बे’सिक शि’क्षा परि’षद को 21 मई 2020 को सु’प्रीम को’र्ट के फै’सले के अनु’सार एक स’प्ताह के भी’तर 31,661 शि’क्षकों को नि’युक्त करने का आ’देश दिया था.

प्रि’यंका गांधी ने सी’एम यो’गी को लि’खा प’त्र

कां’ग्रेस महा’सचिव प्रि’यंका गां’धी ने रा’ज्य के यु’वाओं के द’र्द को लेकर सी’एम यो’गी को पत्र लि’खा. उ’न्होंने पत्र में लि’खा है कि बे’रोजगार यु’वाओं को अ’दालत जाने के लिए म’जबूर किया जा रहा है.

उ’न्होंने प’त्र में लि’खा- बे’रोजगार यु’वाओं से बात क’रने के बा’द, मैं उ’नकी स’मस्याओं के बारे में आ’पको लि’ख रही हूं. युवा म’जबूरी में कोर्ट-क’चहरी के च’क्कर लगा रहे हैं. मुझे स’मझ नहीं आता कि स’रकार ने उनके प्रति इ’तना क्रूर स्व’भाव क्यों ब’नाया है, ज’बकि यह यूपी की आने वा’ली पी’ढ़ी है.