Categories
News

बिहार चुनाव 2020-इस सीट से चुनाव लड़ने वाले थे कन्हैया कुमार लेकिन अब यह है चर्चा…

हिंदी वायरल खबर

बिहार में विधानसभा की सबसे हॉट सीटों में से एक बेगूसराय का बछवारा विधानसभा क्षेत्र एक बार फिर चर्चा में है। पिछले दिनों सोशल मीडिया पर यह भी चर्चा थी कि जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार बछवारा से अपनी उम्मीदवारी कर सकते हैं। लेकिन, भारतीय कम्यु’निस्ट पार्टी के महाग’ठबंधन में शामिल होने के बाद अब महागठबंधन में शामिल कांग्रेस से दिवंगत विधा’यक रा’मदेव राय के पुत्र शिव प्रकाश गरीबदा”स की उम्मीदवारी तय मानी जा रही है।
विज्ञापन

बछवारा विधानसभा क्षेत्र से पांच बार वि’जयी रह चुके रामदेव राय के पुत्र शिव प्रकाश गरीबदास को पार्टी ने कांग्रेस पार्टी से उम्मीदवार बनाना तय किया है। वहीं, एनडीए की ओर से भाजपा के कई नेता” इस सीट से दावेदारी के लिए पार्टी कार्यालय से लगातार संपर्क में हैं। दूसरी ओर एनडीए के सहयोगी दल लोजपा से भी कुछ लोग इस सीट पर अपना दावा ठोक रहे हैं।

बछ’वारा विधान’सभा क्षेत्र से एन’डीए के आंकड़ों पर गौर करें तो एनडीए की हार की वजह भी खुद इनके बागी उम्मीदवार रहे हैं। ऐसे में यह देखना होगा कि एनडीए ब’छवा”रा सीट को किस सहयोगी दल को सौंपती है।

खास बात यह है कि बछवारा विधा’नसभा सीट पर अब पर अब तक एनडीए ने अपना खाता नहीं खोला है, लेकिन चुनाव नज’दीक आते ही उम्मीदवारों की एक लंबी लाइन ने पार्टी के वरीय पदाधि’कारियों को भी असमं’जस में डाल रखा है। क्योंकि यहां के विधायक रामदेव राय के असामयिक निधन के बाद एनडीए ने इस सीट पर कब्जा करने के लिए तमाम तोड़-जोड़ शुरू कर दी है।

बता दें कि बछवारा विधान’सभा की सीट सभी चुनाव में एक हॉट सीट बनकर उभरी है। जिस वक्त 2010 के विधानसभा चुनाव में एनडीए की लहर थी तब भी एकमात्र बछवारा विधानसभा सीट से ही भारतीय कम्यु’निस्ट पार्टी के उम्मी’दवार अवधेश राय ने जीत हासिल की थी। अब तक बछवारा विधानसभा सीट से आठ बार कांग्रेस ने, चार बार भार’तीय कम्यु’निस्ट पार्टी ने, एक बार राज’द, एक बार सोशलिस्ट पार्टी एवं एक बार निर्दलीय उम्मीदवार ने अपनी जीत दर्ज की है।