Categories
News

अभी अभी हुयी चीन को घेरने की सबसे बड़ी तैयारी, बुरी तरह घबराया ड्रैगन!! देखें तस्वीर..👇

खबरें

चीन को घेरने के लिए सिर्फ भारत ही नहीं लगा है, दुनिया के और भी कई देश इस फिराक में हैं कि किस तरह से ड्रैगन को सबक सीखाया जाए। इसके लिए दिल्ली में एक बड़ी मीटिंग होने वाली है। ये वो मीटिंग होगी, जिसमें तय किया जाएगा कि कैसे चीन को घेरने के लिए दुनिया के कई देशों को जोड़ा जाए और कैसे इस पूरे प्लान को अंजाम दिया जाए।

ड्रैगन को घेरने के लिए भारत ने ऐसी चाल चल दी है कि चीन की स्थिति अभी से खराब होने लगी है। इस बार चीन को घेरने के लिए भारत ने जो प्लान तैयार किया है, उसका नाम QUAD है। मतलब साफ है कि ड्रैगन के लिए शह-मात के लिए दिल्ली में प्लान बनेगा। इस बार चीन को घेरने के लिए जो प्लान बना है, उसके मुताबिक चीन को घेरने के लिए नाटो जैसा संगठन बनेगा। इस संगठन में अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया और जापान एक साथ आ सकते हैं।

ये सब कुछ सिर्फ चीन को घेरने के लिए किया जा रहा है। इस बार अमेरिका इंडो-पैसिफिक रीजन के अपने साथियों भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया को साथ लाना चाहता है। कहा जा रहा है कि चीन पर लगाम कसने के लिए नार्थ अटलांटिक ट्रीटी ऑर्गनाइजेशन जैसा एक गठबंधन बन सकता है। बताया जा रहा है कि अमेरिका इस लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ा है कि इन चारों देशों के साथ दूसरे देशों को मिलाकर चीन की चुनौती का सामना करना है। अमेरिका के उप विदेश मंत्री स्टीफेन बिगन ने इन बातों की जानकारी दी है।

चीन को घेरने की सबसे बड़ी तैयारी

अमेरिका का लक्ष्य है चार देशों के साथ दूसरे देशों को मिलाकर चीन की चुनौती का सामना करना। इंडो-पैसिफिक रीजन में मजबूत स्ट्रक्चर की कमी है। उनके पास नाटो या यूरोपीय यूनियन जैसा कोई मजबूत संगठन नहीं है। याद करें कि जब नाटो की शुरुआत हुई थी तो बहुत मामूली उपेक्षाएं थीं। शुरू में कई देशों ने नाटो की सदस्यता लेने के बजाय तटस्थ रहना चुना था।

ये सब कुछ उस वक्त में हो रहा है जब भारत के सामने पूरी तरह से चीन घिरा हुआ है। भारत की स्थिति अभी चीन के सामने काफी मजबूत है। ऐसे में चीन के लिए आने वाले दिन काफी गंभीर हो सकते हैं, हालांकि अमेरिका का कहना है कि चारों देशों के बीच गठबंधन तभी होगा जब दूसरे देश भी अमेरिका जैसे ही इस मामले में चाह रखते हों।

अमेरिका की चाह है कि क्वड्रीलेटरल सिक्टोरिटी डायलॉग देशों में और भी देशों को शामिल किया जाए, जिसका मकसद है इंडो-पैसिफिक रीजन में पूरी तरह से शांति बनाए रखना है।

QUAD में और भी देशों को मिलाने का प्लान

वियतनाम, साउथ कोरिया को भी QUAD में जोड़ा जाएगा

न्यूजीलैंड को भी शामिल करने की तैयारी चल रही है

फिलहाल चीन चारों तरफ से घिरा हुआ है। पहले कोरोना वायरस को लेकर दुनिया भर में उसकी थू-थू हुई और अब भारत समेत दुनिया के कई बड़े देशों से चीन जिस तरह उलझा हुआ है, वो चीन के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है।