Categories
Other

कोरोना संकट के बीच PM मोदी के तरफ से किसानों के लिये बड़ी सौगात, जानकर झूम उठेंगें

देश में कोरोना संक्रमण हर रोज नए रिकॉर्ड बना रहा है. पिछले 24 घंटे के अंदर 62 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी अपडेट के मुताबिक, अब देश में कुल मरीजों की संख्या 20 लाख से अधिक है. इसमें 41 हजार 585 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना से अब तक 13 लाख 78 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 6 लाख से अधिक एक्टिव केस है. आईसीएमआर के आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक 2 करोड़ 27 लाख से अधिक सैंपल का टेस्ट किया जा चुका है. कल यानी गुरुवार को ही 6 लाख 39 हजार टेस्ट किया गया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड के तहत वित्तीय सुविधाओं का ऐलान किया. प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीएम-किसान योजना की अलग-अलग सुविधाओं का ऐलान किया. योजना के शुभारंभ पर प्रधानमंत्री ने कहा, इस योजना से गांव में किसानों के समूहों को, किसान समितियों को, FPOs को वेयरहाउस बनाने के लिए, कोल्ड स्टोरेज बनाने के लिए, फूड प्रोसेसिंग से जुड़े उद्योग लगाने के लिए 1 लाख करोड़ रुपये की मदद मिलेगी. पहले e-NAM के ज़रिए, एक टेक्नॉलॉजी आधारित एक बड़ी व्यवस्था बनाई गई. अब कानून बनाकर किसान को मंडी के दायरे से और मंडी टैक्स के दायरे से मुक्त कर दिया गया.

प्रधानमंत्री ने कहा, अब किसान के पास अनेक विकल्प हैं. अगर वो अपने खेत में ही अपनी उपज का सौदा करना चाहे, तो वो कर सकता है. या फिर सीधे वेयरहाउस से, e-NAM से जुड़े व्यापारियों और संस्थानों को, जो भी उसको ज्यादा दाम देता है, उसके साथ फसल का सौदा किसान कर सकता है. इस कानून का उपयोग से ज्यादा दुरुपयोग हुआ. इससे देश के व्यापारियों को, निवेशकों को, डराने का काम ज्यादा हुआ. अब इस डर के तंत्र से भी कृषि से जुड़े व्यापार को मुक्त कर दिया गया है.