Categories
Other

कोरोना काल में बच्चों के लिए खुलेंगे स्कूल, सरकार ने बनाया ये प्लान

देश में कोरोना संक्रमण हर रोज नए रिकॉर्ड बना रहा है. पिछले 24 घंटे के अंदर 62 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी अपडेट के मुताबिक, अब देश में कुल मरीजों की संख्या 20 लाख से अधिक है. इसमें 41 हजार 585 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना से अब तक 13 लाख 78 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 6 लाख से अधिक एक्टिव केस है. आईसीएमआर के आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक 2 करोड़ 27 लाख से अधिक सैंपल का टेस्ट किया जा चुका है. कल यानी गुरुवार को ही 6 लाख 39 हजार टेस्ट किया गया था.

सरकार का विचार है कि बड़ी कक्षाओं (10वीं-12वीं) के लिए स्कूल सितंबर और नवंबर के बीच शुरू हो सकते हैं. दिशानिर्देश  के अनुसार  कक्षा 10वीं-12वीं के लिए पहले स्कूल  खोले जाने पर विचार किया जा रहा है, जिसके बाद कक्षा छठी से 9वीं तक की कक्षाओं भी शामिल होंगी. पहले चरण में, कक्षा 10वीं और 12वीं के छात्रों को स्कूल आने के लिए कहा जाएगा. यदि किसी स्कूल में एक ही कक्षा के चार सेक्शन है, तो ऑल्टरनेटिव दिनों में हर दो सेक्शन के छात्रों को बुलाया जाएगा.

स्कूल का समय आधा कर दिया जाएगा. जहां  5 से 6 घंटे  आमतौर पर स्कूल चलते हैं. उसे  2 से 3 घंटे कर दिया जाएगा. इसी के साथ स्कूल को एक घंटे का समय सैनिटाइज करने के लिए दिया जाएगा. वहीं स्कूल में  33% स्टाफ को आने की अनुमति होगी. स्कूल को लेकर निर्णय को इस महीने के अंत में जारी किया जा सकता है. वहीं अंतिम निर्णय राज्यों पर छोड़ा जा सकता है कि छात्रों को स्कूलों में वापस कैसे बुलाया जाए.

राज्यों ने अपना आकलन प्रस्तुत कर दिया है इन तारीखों को उन्हें लगता है कि स्कूल फिर से खुल सकते हैं. दिल्ली – अगस्त
हरियाणा – 15 अगस्त
आंध्र प्रदेश – 5 सितंबर- (tentative)
कर्नाटक- 1 सितंबर
राजस्थान – सितंबर
केरल – 31 अगस्त
असम – 1 सितंबर- (tentative)
बिहार – 15 अगस्त
लद्दाख – 31 अगस्त