Categories
Other

Tiktok यूजर्स के लिए बड़ी खुशखबरी: ऐप बैन होने से परेशान चाइना इस देश को बेचने जा रहा Tiktok!

सरकार ने चीनी कंपनियों के 59 ऐप्स पर पाबंदी लगाने के बाद मंगलवार को उन्हें इस आदेश का कड़ाई से पालन करने को कहा और उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार आदेश का किसी भी तरीके से उल्लंघन करने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है. लद्दाख हिंसा के मद्देनजर सरकार ने 29 जून को TikTok, कैमस्कैनर और यूसी ब्राउज़र सहित 59 चीनी ऐप्स को देश की सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुए उन पर प्रतिबंध लगा दिया था.

भारत के बाद अब अमेरिका भी चाइनीज शॉर्ट वीडियो एप टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने की सोच रहा है। ऐसे में टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बाइटडांस बुरी तरह से फंस गई है। इस दलदल से निकलने के लिए कंपनी अपने एप टिकटॉक को अमेरिका को बेच सकती है।फाइनेंशियल टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक सिकोइया और जनरल अटलांटिका टिकटॉक में बड़ी हिस्सेदारी खरीद सकती हैं। इस संबंध में ट्रेजरी डिपार्टमेंट से बात भी चल रही है, हालांकि ये कंपनियां इस बात पर भी सोच-विचार कर रही हैं कि उनके निवेश के बाद इस एप को अमेरिका में मंजूरी मिलेगी या नहीं।

चीन और अमेरिका के बीच तनाव काफी पहले से चल रहा है लेकिन चीन से पूरी दुनिया में संक्रमण फैलने के बाद मामला और गंभीर हो गया है। अमेरिका पहले से ही चीन पर आरोप लगाते रहा है कि वह टेक कंपनियों की मदद से अमेरिकी नागरिकों की जासूसी कर रहा है।आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बाइटडांस ने डिजनी के केविन मेयर को अपना सीईओ बनाया है। बाइट डांस के ऑफिस लास एंजिल्स, लंदन, पेरिस, बर्लिन, दुबई, मुंबई, सिंगापुर, जकार्ता, सिओल और टोक्यो में पहले से ही मौजूद हैं। पिछले महीने ही बाइटडांस ने कहा था कि वह अपने हेडक्वॉटर को बीजिंग से वॉशिंगटन शिफ्ट करने करेगी।