Categories
vastu

अगर आपकी शादी में भी आ रही है बाधा, तो अपनाएं वास्तु के ये 6 नियम………..

वास्तु

मनुष्य का जीवन किसी न किसी परेशानी से घिरा ही रहता है किसी को अपने करियर की चिंता है तो कोई आर्थिक तंगी से जूझ रहा है वहीं कोई अपनी शादी न होने से परेशान है। अगर आप भी इन समस्याओं से जूझ रहे हैं तो वस्तुशास्त्र के माध्यम से आप अपने जीवन में चल रही समस्त प्रकार की समस्याओं का हल कर सकते हैं। यहां पर हम आपसे वैवाहिक जीवन से जुड़ने संबधि समस्या के समाधान के बारे में चर्चा करने वाले हैं। दरअसल अपने जीवन में बहुत से लोग शादी न होने के चलते परेशान हैं। किसी को लड़की नहीं मिलती तो किसी की शादी बनते-बनते टूट जाती है ऐसे ही कई समस्याओं से अगर आप भी घिरें हैं और शादी न होने से परेशान हैं तो वास्तुशास्त्र के माध्यम से इन सारी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं।

चलिए यहां पर आज हम उन समस्याओं के समाधान के बारे में चर्चा करते हैं जिन्हे अपनाने के बाद आप भी शादी के बंधन में बंध जाएंगे।

इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि शादी योग्य लड़के-लड़कियों के बेडरूम में कभी भी हरे पेड़-पौधे या ताजा फूलों के गुलदस्ते न रखें। क्योंकि वास्तु के अनुसार इनमें मौजूद लकड़ी तत्व शादी में अड़चन पैदा करती है।
जिस लड़की की शादी करवानी है उसके कमरे में फूलों की पेंटिग लगानी चाहिए। फूल सौन्दर्य, प्यार और रोमांस का प्रतीक होते हैं। इससे शादी जल्दी होती है।
हमेशा घर के पश्चिम और वायव्य कोण को साफ-सुथरा रखें क्योंकि ऐसा करने से पाॅजिटिव एनर्जी का विस्तार होता है और शादी के रिश्ते आते है।
लड़के हमेशा ध्यान रखें कि वे ऐसे कमरे में सोएं जहां एक से ज्यादा दरवाजे हों क्योंकि कम हवा और कम रोशनी वाले कमरे में सोने से शादी में रूकावटें आती हैं।
शादी करने का मन है लेकिन बात नही बन रही तो काले रंग के कपड़े न पहनें। यह रंग राहु, केतु और शनि का प्रतिनिधित्व करता है। जिससे काम में अड़चनें आती हैं।
जो लड़के या लड़कियां विवाह योग्य हैं उनके कमरे में बड़े बर्तन या बेड के नीचे लोहे का बर्तन रखना शादी के लिए शुभ होता है।