Categories
ज्योतिष

मन ही मन बोलें ये नंबर, हो जाएंगे बेहद खूबसूरत..

ज्योतिष

इंसान के लिए कुदरत का सबसे अनुपम उपहार है सुंदरता, हर इंसान सुंदर और आकर्षक व्यक्तित्व चाहता है, लेकिन सबको नहीं मिल पाती कुदरती खूबसूरती. खूबसूरती के कई पहलू हैं, मसलन कुछ लोग जन्म से ही सामान्य रूप-रंग के होते हैं. तो कुछ लोगों की सुंदरता जीवन की परिस्थितियों के मुताबिक बदलती रहती है. ये बात बहुत कम लोग जानते हैं कि ग्रहों की बनती –बिगड़ती चाल से सुंदरता प्रभावित होती है.

ग्रहों से बनती-बिगड़ती सुंदरता

कई बार कुंडली के ग्रहों के कारण भी इंसान की सुंदरता पर असर पड़ता है. आज हम आपको बताएंगे कि कैसे अलग-अलग ग्रह इंसान की खूबसूरती को बनाया बिगाड़ सकते हैं. सुंदरता पर सूर्य के कारण कैसे ग्रहण लगता है.

सूर्य के कारण सुंदरता की समस्या

आंखें कमजोर और निस्तेज हो जाती हैं

चेहरे पर मायूसी छाई रहती है और कालापन आने लगता है

त्वचा में पीलापन बढ़ने लगता है और त्वचा पतली हो जाती है

मुंह सूखा-सूखा रहता है, बातचीत में तकलीफ उठानी पड़ती है

कंधे झुके हुए रहते हैं और शरीर में पसीने की तेज दुर्गंध रहती है
अगर आपको भी अपने भीतर ऐसे लक्षण दिखाई दे रहे हों….तो हम आपको इनसे निजात पाने के उपाय भी बताएंगे….

सूर्य के कारण सुंदरता की समस्या हो तो…

रोजाना सुबह उगते सूर्य के सामने खड़े होकर त्राटक ध्यान करें

त्राटक का अर्थ है एकटक निहारना

यानि सूर्य को तब तक निहारें जब तक आखों में पानी ना आ जाए

फिर सूर्य को जल चढ़ाएं और हाथ उठाकर सूर्य को देखते हुए ऊं का उच्चारण करें

बेल का सेवन करें, बेलपत्र को पीसकर नारियल तेल में मिलाकर त्वचा पर लगाएं

विटामिन डी से भरपूर खाना खाएं और प्रतिष्ठित लोगों के करीब रहें.

किसी इंसान की कुंडली में जब चंद्रमा पीड़ित या कमजोर हो तो भी उसके सौंदर्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है. आपकी खूबसूरती को कलंकित तो नहीं कर रहा चंद्रमा….

चंद्रमा के कारण सुंदरता की समस्या

शरीर निस्तेज रहता है और आंखों में भी चमक नहीं रहती.

आंखों के नीचे कालापन घेरे रहता है और बाल सफेद होने लगते हैं.

खून की कमी और कमजोरी की समस्या बढ़ने लगती है.

त्वचा में रूखापन आता है और शरीर में अजीब सी गंध बनी रहती है.

कुंडली में चंद्रमा की खराब दशा कैसे खराब कर सकती है खूबसूरती ….ये तो आपने जान ही लिया….अब इन तमाम समस्याओं के समाधान भी देख लीजिए….

चंद्रमा के कारण सुंदरता की समस्या हो तो…

ज्यादा पानी पिएं और चाय कम कर दें.

अशोक की छाल का काढ़ा पिएं.
वनस्पति, पत्तियों और बच्चों के संपर्क में रहें.

स्नान करने का समय और संख्या दोनों बढ़ा दें.

सोना कम पहनें, नशा ना करें और ज्यादा से ज्यादा पढ़ें.

अध्यात्म और ध्यान को भी समय दें.

रोजाना आंखों में गुलाबजल डालें.

लाल ग्रह…यानि मंगल …उग्र प्रकृति का ग्रह है….इसके प्रभाव अच्छे हों या बुरे….होते हमेशा तेज़ ही हैं….इसलिए जब मंगल का दुष्प्रभाव पड़ता है तो खूबसूरती बड़ी मुसीबत में पड़ जाती है…..तो देखिए….कहीं आपकी खूबसूरती पर लाल ग्रह का पहरा तो नहीं…

मंगल के कारण सुंदरता की समस्या

चेहरा बेहद सख्त और रूखा दिखाई देता है.

साथ ही चेहरा हमेशा चढ़ा हुआ या उतरा हुआ रहता है.

फोड़े-फुंसियों की समस्या बढ़ जाती है और चेहरे पर धब्बे उभर आते हैं.

त्वचा तैलीय होती जाती है और बाल कम होते जाते हैं.

लगातार सिर में दर्द रहने के कारण किसी भी काम में मन नहीं लगता.

अगर आपकी सुंदरता पर भारी पड़ रहा है मंगल….तो कीजिए ये उपाय….

मंगल के कारण सुंदरता की समस्या हो तो…

मेहनत करके खूब पसीना बहाएं.

नमक और मीठा दोनों का सेवन कम कर दें

कैल्शियम खाएं और तांबे के बर्तन में पानी पिएं.

कच्ची प्याज, टमाटर और अरहर की दाल का सेवन कम कर दें.

विटामिन सी से भरपूर फल और सब्जियों का सेवन बढ़ा दें

इन उपायों से जन्मजात काया नहीं बदली जा सकती लेकिन अगर ग्रहों की बदलती चाल के कारण आपकी खूबसूरती मुरझाई हुई है तो ये उपाय आपके लिए रामबाण साबित हो सकते हैं.