Categories
News

जब होने लगी अचा’नक सां’पो की बारिश, फिर जो हुआ देखें…

हिंदी खबर

झारखंड के बोकारो जिले के बगदा गांव में अचा’नक होने लगी सां’पो की बारिश सांप के डंसने से सपेरे टेकलाल डोम (50) की मौ’त हो गई। घट’ना मनसा पूजा पर सांप का खेल दिखाने के दौ’रान हुई। सांप के डं’सने के बाद लोग उन्हें लेकर अस्पता’ल पहुंचे लेकिन वहां डॉक्ट’रों ने मृ’त घो’षित कर दिया।

जानकारी के अनुसार मनसा पूजा पर टेकलाल डोम रात अपने पिटारे से सां’प निकालकर खेल दिखा रहे थे। इस दौ’रान सांप ने हथेली में डं’स लिया। परिजन और ग्रामीण सामुदायिक अस्पता’ल ले गए। चि’कित्सकों ने गंभी’र स्थिति को देखते हुए सदर अस्पता’ल बोकारो रेफर कर दिया। आधे रास्ते में ही परिजन मृ’त समझ कर उन्हें वापस लेकर घर लौ’ट आए। बताया जाता है कि सुबह अंति’म संस्का’र की तैयारी के दौरा’न उनकी धड़कन चलती देख पुन: सदर अस्पता’ल ले गए, जहां चि’कित्सकों ने मृ’त घोषित कर दिया। पोस्टमार्टम के बाद शव गांव आया। इधर, इनके पिता चैता डोम भी मशहूर सपेरा थे। टेकलाल डोम ने अन्य कलाकारों के साथ आकाशवाणी के दर्जनों कार्यक्रमों में अपनी प्रस्तुति दी थी। वे ढोलक बजाने में निपुण थे, लेकिन परिवार के भरण-पोषण के लिए उन्हें अपने पिता की तरह स’पेरा का काम करना पड़ रहा था।